Home Breaking जनवरी से अगस्त तक के आंकड़ों ने साइबर सिटी में बच्चियों की सुरक्षा पर उठाये गंभीर सवाल

जनवरी से अगस्त तक के आंकड़ों ने साइबर सिटी में बच्चियों की सुरक्षा पर उठाये गंभीर सवाल

0
0Shares

Manu Sharma,Yuva Haryana

Gurugram,25August,2018

गुरुग्राम यानी साइबर सिटी में आठ महीनों के दौरान 102 से ज्यादा यौन शोषण व उत्पीड़न के मामले दर्ज किए गए है। सिटी के विभिन्न थाना इलाकों में हर 3 दिन में एक बच्ची के साथ यौन शोषण या उत्पीड़न की वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। पुलिस की माने तो 2017 में यह आंकड़ा 142 तक सिमटा था, लेकिन 2018 में सिर्फ 8 महीनों के दौरान 102 मामले अभी तक दर्ज किए जा चुके है।

वही इस अति संवेदनशील मामले में मशहूर मनोवैज्ञानिक डॉक्टर ब्रह्मदीप संन्धु की माने तो बच्चे ऐसे शातिरों का बेहद आसान शिकार होते है जो किसी को जल्दी से अपने साथ हुई हैवानियत बया तक नही कर पाते है। डर लगातार बढ़ते एकल परिवारों के चलन के कारण समस्या और ज्यादा बढ़ती जा रही है। हम लोग जल्द ही किसी पर भी विश्वास कर लेते है और अंजाम बहुत भयावह होता है।

वही इस मामले में एसीपी क्राइम की माने तो मासूमों के साथ हुई ज्यादातर वारदातों में कोई सगा,परिचित ,किरायेदार ही शामिल पाए गए हैं। लेकिन बच्चे और बच्चियों के साथ हुई बर्बरता मामलों को गुरुग्राम पुलिस बेहद संजीदगी से लेती है और इसी के चलते ज्यादातर मामलों में चार्जशीट पेश की जा चुकी है।

इन आकड़ो के बाद कहींं न कहीं बड़ी जिम्मेदारी हमारी भी बनती है कि अपने बच्चों व बच्चियों को गुड टच ओर बेड टच के अलावा किसी भी अजनबी ,या किरायेदार पर एकदम से विश्वास न करने के बारे में विस्तार से बतायें।साथ ही अपने बच्चों को ऐसे ही कही खेलने के लिए न जाने दें क्यूंकि इसी लापरवाही का नतीजा आज साइबर सिटी के लोग झेल रहे हैं।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

योग दिवस’ पर जीतें लाखों रुपये का इनाम, घर पर बैठकर ही करना होगा योगा

Yuva Haryana, Chandigarh कोरोना संक&…