बसपा का बल – 2009 में गैर-कांग्रेसी और 2014 में गैर-भाजपाई सरकार बनवा सकता था हाथी और चश्मे का मेल

Chandigarh बसपा से इनेलो का गठबंधन क्या मायने रखता है, हरियाणा के सारे राजनीतिक चासड़ू लोग इस पर जोड़-घटा करके देख रहे हैं लेकिन तस्वीर किसी के जहन में साफ नहीं है। चूंकि इस जोड़ी ने बस एक लोकसभा चुनाव ही 20 साल पहले 1998 में साथ लड़ा था, इसलिए इनके साथ आने का ज्यादा […]

Continue Reading