गुरुग्राम में अब CCTV करेगा ट्रेफिक तोड़ने वालों को रिकॉर्ड, घर पहुंचेंगे चालान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा
 Manu Mehta, Yuva Haryana
Gurugram, 23 June, 2018
गुरुग्राम जिला में चंडीगढ़ की तर्ज पर शहर का ट्रैफिक कंट्रोल होगा और सीसीटीवी कंट्रोल रूम से ट्रैफिक नियम तोडऩे वालो के घर सीधे चालान भेजे जाएंगे। इसकी रूपरेखा गुरुग्राम पुलिस तथा गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण द्वारा संयुक्त रूप से तैयार की जा रही है। 
मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ० राकेश गुप्ता द्वारा आज चंडीगढ़ मेें वीडियो कान्फेंस के माध्यम से विभिन्न सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा के दौरान इस बारे में जानकारी दी गई। 
इस वीडियो कान्फेंस में डॉ० गुप्ता ने गुरुग्राम के उपायुक्त, विनय प्रताप सिंह को निर्देश दिए कि वे गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी उमाशंकर से विचार विमर्श करके गुरुग्राम के लिए सीसीटीवी कैमरों के आधार पर चालान करने की व्यवस्था शुरू करवाएं।
उपायुक्त ने डॉ० गुप्ता को बताया कि नगर निगम गुरुग्राम के सहयोग से गुरुग्राम शहर में 64 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं तथा पूरे शहर में इस प्रकार के कैमरे लगाने के लिए गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) द्वारा एक वृह्द योजना बनाई जा रही है। गुरुग्राम में पुलिस द्वारा ई-चालान करने शुरू कर दिए गए हैं तथा चालान बुक से चालान जारी करने की प्रथा को पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा अब ट्रैफिक नियमों का उल्ल्ंघन करने वाले वाहन चालकों के चालान ई-चालान मशीन से काटे जा रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि शहर में सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद ट्रैफिक नियम तोडऩे वाले वाहन चालको को ट्रैफिक पुलिस नहीं रोकेगी बल्कि लापरवाही बरतने वाले वाहन चालक के घर डाक से चालान भेज देगी। इससे गुरुग्राम शहर में ट्रैफिक नियमों की पालना ज्यादा होगी और यातायात सुचारू करने व ट्रैफिक नियम तोडऩे वालो पर निगरानी रखने के लिए पुलिस कर्मचारी भी नहीं लगाने पड़ेगे। सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से ही नियम तोडऩे वालो पर नजर रखी जा सकेगी। 
आज की बैठक में सडक़ो को सुरक्षित बनाने के लिए लागू किए जा रहे हरियाणा विजन जीरो कार्यक्रम पर भी चर्चा की गई। जिसमें डा. गुप्ता ने सडक़ इन्फ्रास्ट्रक्चर में सुधार के उपायों को जल्द से जल्द लागू करवाने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि सडक़ दुर्घटनाओं का अध्ययन करने के बाद हरियाणा विजन जीरो की टीम जो सुझाव देती है, उस पर अमल करने से सडक़ दुर्घटनाओं में काफी कमी आई है। हरियाणा विजन जीरो नामक कार्यक्रम को नैस्कॉम, डब्ल्यूआर आई इंडिया तथा होंडा द्वारा संयुक्त रूप  से चलाया जा रहा है। 
सोशल मीडिया ग्रीवेंस टै्रकर की समीक्षा के दौरान अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. गुप्ता ने बताया कि तनमय सदाना नामक व्यक्ति ने गुरुग्राम पुलिस को अपने घर में हुई चोरी की सीसीटीवी फुटेज सौंप दी फिर भी उसकी एफआईआर दर्ज अभी तक नहीं की गई है। यह शिकायत पुलिस के पास 1 जून से लंबित है। शिकायतकर्ता ने इस संबंध में ट्विटर के माध्यम से मुख्यमंत्री को सूचित किया था। इस मामले को मुख्यमंत्री ने गंभीरता से लिया है।
डा. गुप्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने संबंधित आईओ के खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री के ये आदेश बैठक में उपस्थित पुलिस उपायुक्त मुख्यालय दीपक गहलावत तक पहुंचाए। श्री गहलावत ने कहा कि बैठक के बाद ही उस आईओ के खिलाफ कार्यवाही कर दी जाएगी, जिसने इस मामले में कोताही की है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *