गुजरात शराब तस्करी में पांच कर्मचारियों पर गाज, चार्जशीट और तबादला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Hayana 
Ambala, 5th Jan, 2020

अंबाला से ड्राई राज्य गुजरात के लिए शराब तस्करी का भंडाफोड़ होने के बाद रेल प्रशासन ने पांच रेल कर्मचारियों का तबादला कर दिया है। डीसीएम ने जांच कर कर्मचारियों की जिम्मेदारी तय की, जिसके बाद चार्जशीट देने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। जांच में पाया गया है कि पार्सल में नियमों को ताक पर रखकर भी बुकिग की जा रही थी। इस मामले में पहले ही सीपीएस का तबादला डीआरएम कार्यालय में कर दिया गया था।

शराब तस्करी में गुजरात पुलिस ने भी मामला दर्ज करके आरोपितों की गिरफ्तारी की थी। हालांकि इस मामले में रेल कर्मचारियों के पुलिस ने बयान तो दर्ज किए, लेकिन अभी तक किसी भी कर्मी की गिरफ्तारी नहीं डाली गई।

अंबाला से ड्राई राज्य गुजरात के लिए पहली बार शराब की 540 बोतलें तो दूसरी बार 704 बोतलें भेजी गई थीं। अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन से पार्सल में छिपाकर यह बोतलें ट्रेन के जरिये गुजरात पहुंचाई गई। शराब की बोतलों को थर्मोकोल व अन्य पैकिग में पैक किया गया। एक-एक बोतल को शराब की पेटी से निकालकर पैकिग की गई थी। पहली खेप कटरा से जामनगर जाने वाली गाड़ी संख्या 12478 ट्रेन में लोड की गई, जबकि दूसरी खेप कटरा से हापा जाने वाली गाड़ी संख्या 12476 ट्रेन में लोड की गई। दोनों बार शराब अंबाला छावनी से ही लोड की गई। 16 सितंबर 2019 को राजकोट पहुंची शराब की डिलीवरी दे दी गई, जिसे एसओजी ने पकड़ लिया।

इसके बाद 17 सितंबर को जीआरपी और आरपीएफ ने भी अपने स्तर पर राजकोट में हापा एक्सप्रेस गाड़ी में चेकिग की, जिसमें 704 बोतल पकड़ी गईं। पहली खेप राजकोट रेलवे स्टेशन के बाहर गुजरात के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने पकड़ी, तो दूसरी खेप रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) गुजरात व राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) की संयुक्त टीम ने पकड़ी। पहली बार 540 बोतल शराब बरामद हुई, तो दूसरी बार यह आंकड़ा 704 बोतल का था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *