सीएम सिटी करनाल में गऊशाला का हाल, मरने के बाद भी कोवे नोच रहे गाय औऱ बैल को

Breaking अनहोनी बड़ी ख़बरें हरियाणा

Kamarjeet, Yuva Haryana

Karnal

जिस देश में गाय के नाम पर गोरक्षक इंसान तक की जान लेने से नही डरते है उस देश के ये हालात है कि रोजाना नंदी गाय और बछड़े भूखे प्यासे मर रहे है। ताजा मामला करनाल जिले का है जहां की गोशाला और नन्दीशाला में रोजाना पशु मर रहे है और मौत भी ऐसी की जो कोई देखे वो हैरान हो जाए।

 

करनाल की गोशाला और नंदीशाला में रोजाना पशु मर रहे है और मरने के बाद उन्हें कौवे खा रहे है। कल देर रात इसी का विरोध फुसगड के लोगो द्वारा किया गया। लोगों का कहना है कि पशु मर रहे है यहां पर और नगर निगम कोई कारवाई नही कर रहा। कई कई दिन तक इन पशुओं के शव यहा नन्दी शाला और गौ शाला में पड़े रहते है जिस कारण दूर दूर तक इसकी बदबू फैल रही और लोगो को डर सता रहा है कोई बीमारी ना यहां पर फैल जाए। आलम यह हो रहा है कुत्ते और कोवे इन्हें खा रहे है !

गांव फुसगड के पास बनी हुई गौ शाला और नंदीशाला में सैकड़ो गाय, नंदी और बछड़े रहते है जिनकी देखभाल नगर निगम करता है।  लेकिन क्या देखभाल हो रही है ये आप इन तस्वीरों में देख रहे है किस प्रकार भगवान शिव शंकर का वाहन कहे जाने वाले नन्दी को मौत के बाद भी मुक्ति नही मिल रही होगी। मिलेगी भी आखिर कैसे मौत के बाद नन्दी के शरीर को कैसे कौवे नोच नोच कर खा रहे है और ये ही नही गौ शाला में भी हमें एक ऐसी ही तस्वीर मिली कैसे तड़पती हुई गाय को चील नोच रहा था खा रहा था। इन तस्वीरो को देखकर शायद मौत भी शरमा जाए लेकिन नगर निगम तो बस अपने आप को बचाने में लगा हुआ है !

 

वहीं इस बारे मे धीरज कुमार नगर निगम कार्यकारी अधिकारी का अपना ही तर्क है उनका कहना है कि सहयोग कोई देता नही सवाल सब उठाते हैं यहां जो पशु आते है वो बीमार होते है जिस कारण कई बार ऐसे हालात हो जाते है। वही आखिर उन्होंने यह भी कहा कि अगर कोई कमी पेशी है तो उसका सुधारा भी जाएगा ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *