गणित से हरियाणा के बच्चों को लगता है डर, हम दिल्ली की तरह कर देंगे शिक्षा में सुधार- केजरीवाल

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana
Bhiwani, 23 Oct, 2018
भिवानी पहुंचे दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने हरियाणा के सीएम मनोहरलाल को कमजोर सीएम बताया। उन्होने स्कूल का दौरा कर कहा कि दिल्ली में स्कूलों व अस्पतालों की हालत सुधर सकती है तो हरियाणा में क्यों नहीं।
बता दें कि दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल, शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिन्द ने भिवानी के बापोङा, अलखपुरा, तोशाम व संडवा सहित चार गांवों का दौरा किया। सबसे पहले वो बापोङा गांव पहुंचे जहां उन्होने सरकारी स्कूल निरिक्षण कर बच्चों से मुलाकात की। इस दौरान सीएम केजरीवाल ने बच्चों से पढाई के बारे में जानकारी ली। साथ ही गणित के बारे में पुछा और कहा कि सबको गणित से डर लगता होगा।
स्कूल की कई कक्षाओं का दौरा करने के बाद उन्होने स्कूल प्रांगण का भी हाल देखा और फिर प्राचार्य कक्ष में कुछ पल बिताए। यहां पर उन्होने विजिटर बुक में प्राचार्य व अन्य स्टाफ की सरहाना के बारे में लिखा। साथ ही स्कूल प्राचार्य डा. वीना को दिल्ली के किसी स्कूल में नौकरी करने का ऑफर भी दिया।
मीडिया से रूबरू हुए अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि जब तीन सालों में दिल्ली के अस्पतालों व स्कूलों की हालत सुधार कर चमत्कार हो सकता है तो हरियाणा में चार सालों में क्यों नहीं हुआ। केजरीवाल ने सीएम मनोहरलाल की ईमानदारी को लेकर सवाल पर कहा कि वो किसी को सर्टिफिकेट देने नहीं आए, पर उनका मनोहरलाल से यही सवाल है कि यहां बदलाव क्यों नहीं हुआ।
उन्होने चुनावों में गठबंधन को बङी ही चालाकी से टाला और कहा कि उन्हे राजनीति नहीं आती। वो तो केवल राष्ट्र निर्माण की सोच रखते हैं। पहले की सरकारें जाति के नाम राजनीति करती थी, लेकिन हम शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी व सङकों में सुधार करने तथा किसानों की उनकी फसलों का उचित भाव व मुआवजा देने के साथ शहीद सैनिकों के परिजनों को सम्मान देना चाहते हैं।
वहीं दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में तो अनेका कामों में एलजी रूकावट पैदा कर देते हैं, लेकिन हरियाणा में ऐसा नहीं है। उन्होने कहा कि हरियाणा में स्कूलों व अस्पतालों में सुधार ना होना बताता है कि यहां के सीएम मनोहरलाल कमजोर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *