महेंद्रगढ़ में सीएम ने खोला सौगातों का पिटारा, 452 करोड़ की परिजयोनाओं का किया लोकार्पण

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana
Mahendergarh, 24 Feb, 2019
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने महेंद्रगढ़ जिला क्षेत्र के विकास के लिए कुल 452 करोड़ 45 लाख 11 हजार रूपये लागत की विभिन्न 12 परियोजनाओं की आधारशिला व एक विकास परियोजना का उद्घाटन किया। इस अवसर पर शिक्षा व पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा द्वारा की गई महेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र की  विकास संबंधी विभिन्न मांगों पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी संभव मांगों को पूर्ण करने का सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किया जाएगा। 
 महेन्द्रगढ़ के खुडाना गाँव में किसान सम्मान निधी योजना के शुभारंभ अवसर पर आयोजित विकास रैली में उक्त परियोजनाओं की आधारशिला व उद्घाटन के उपरांत मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी क्षेत्रों का समानता के आधार पर विकास किया है। नागरिकों को सभी प्रकार की सुविधाएं देने के लिए प्रदेश सरकार ने योजनाबद्ध रूप विकास के क्रम को लगातार गति दी है। इसी क्रम में विभिन्न विकास परियोजनाओं के परिणामस्वरूप महेंद्रगढ़ जिला क्षेत्र में  विकास को नई दिशा मिलेगी। 
उन्होंने बताया कि मुख्यत: 960 एकड क्षेत्र में कुल 200 करोड़ रूपये लागत से खुडाना गाँव में विकसित किए जाने वाले आईएमटी (इंडस्ट्रीयल मॉडल टाऊनशिप)के परिणामस्वरूप क्षेत्र मे रोजगारों के सृजन के साथ.-साथ आर्थिक समृद्धि भी आएगी। कुल 124 करोड़ 43 लाख रूपये लागत की नहरी पानी आधारित जल वितरण योजना से महेंद्रगढ़ जिला के सतनाली खंड के विभिन्न 25 गांवों व 09 ढाणियों में पर्याप्त पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। कुल 23 करोड 83 लाख रूपये लागत की भूमिगत पाइप सिंचाई जल आपूर्ति योजना से महेंद्रगढ़ जिला कुल 09 गाँवों को सिचाई के लिए पानी उपलब्ध हो सकेगा।
       
मुख्यमंत्री ने महेन्द्रगढ़ जिला क्षेत्र में विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति का जिक्र करते हुए कहा कि क्षेत्र में सिंचाई प्रणाली को विस्तार देने की दिशा में कुल 143 करोड़ रूपये लागत की उठान सिंचाई परियोजना का कार्य प्रगति पर है। महेन्द्रगढ़ जिला क्षेत्र में नहरों की कुल 96 अंतिम छोर में से 92 अंतिम छोर पर पानी पहुँचाया गया है। सुंदरह, महेन्द्रगढ़ में 10 करोड़ रूपये लागत से इंडो.इजरायल सब्जी उत्कृष्टता केंद्र का निर्माण कार्य प्रगति पर है। कनीना व निजामपुर खंडों में गांवों क्रमश: उन्हानी व छिलरो में 12.12 करोड़ रूपये की लागत से महाविद्यालयों के भवनों का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। अटेली-बहरोड़ सडक़ मार्ग पर 25 करोड़ रूपये की लागत से रेलवे उपरगामी पुल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। सुजापुर;महेन्द्रगढ़  में 04 करोड़ 47 लाख 98 हजार रूपये लागत से औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के भवन का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है और शैक्षणिक सत्र 2019-2020  से कक्षाएं प्रारंभ कर दी जाएगी। सतनाली में कुल 01 करोड़ 64 लाख 60 हजार रूपये लागत से बस अड्डे का निर्माण करवाया गया है। 
     
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरियावास में 80 एकड़ क्षेत्र में 500 करोड़ रूपये की लागत से स्थापित किए किए जाने वाले महेन्द्रगढ़ जिला क्षेत्र के प्रथम चिकित्सक महाविद्यालय का निर्माण कार्य दो वर्षों की समयावधि में पूर्ण किया जाएगा। महेन्द्रगढ़ जिला क्षेत्र से गुजरने वाले दो राष्ट्रीय राजमार्गों को चारमार्गीय बनाने का कार्य केंद्र सरकार को सौंप दिया गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग-1 व राष्ट्रीय राजमार्ग-8 को जोडऩे के निर्मित किए जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग-152  डी ग्रीन कॉरिडोर के निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य अंतिम चरण में है। महेन्द्रगढ़ के ऐतिहासिक किले को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 99 करोड़ रूपये व राज्य सरकार द्वारा 48 करोड़ रूपये खर्च किए जाएंगे। महेन्द्रगढ के नसीरपुर गाँव मे एक युद्ध स्मारक का निर्माण भी करवाया जाएगा।
             
मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा रखी गई विभिन्न 12 परियोजनाओं की आधारशिला में कुल 200 करोड़ रूपये लागत से खुडाना गाँव महेन्द्रगढ़ में विकसित किए जाने वाली औद्योगिक संपदाए कुल 124 करोड़ 43 लाख रूपये लागत की नहरी पानी आधारित जल वितरण योजना ,कुल 35 करोड़  95 लाख  65 हजार रूपये लागत से सरकारी आवासों का निर्माण ,कुल 23 करोड 83 लाख रूपये लागत की भूमिगत पाइप सिंचाई जल आपूर्ति योजनाएं कुल 29 करोड़  60 लाख रूपये लागत से माधोगढ में पर्यटन अवसरंचना के विकास कार्य, कुल 10 करोड़ 60 लाख  78 हजार रूपये की लागत से सतनाली में सीवरेज प्रणाली का निर्माण, कुल  06 करोड़  70 लाख  68 हजार रूपये की लागत से राजकीय महाविद्यालय, अटेली में बहुद्देशीय सभागार का निर्माण, कुल 05 करोड़ 65 लाख 65 हजार रूपये लागत से राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, नारनौल में बहुद्देशीय सभागार का निर्माण, कुल 03 करोड़ 60 लाख 89 हजार रूपये की लागत से राजकीय महाविद्यालय, नारनौल में 12 क्लास रूम के लिए भवन का निर्माण, कुल 02 करोड़ 34 लाख रूपये की लागत से गांव चेलावास में दमकल केंद्र की स्थापना व कुल 02 करोड़ 34 लाख रूपये लागत से गाँव नीरपुर में दमकल केंद्र की स्थापना शामिल है। इसके अतिरिक्त कुल 03 करोड़ 60 लाख रूपये लागत से स्थापित किए गए 33 केवी क्षमता का सुरेहती-जाखल  सब -स्टेशन भी शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *