Home Breaking कांग्रेस ने पहुंचाई सेना के सम्मान को ठेस, हमारे राज में दिया मुंहतोड़ जवाब- सीएम

कांग्रेस ने पहुंचाई सेना के सम्मान को ठेस, हमारे राज में दिया मुंहतोड़ जवाब- सीएम

0
0Shares

Yuva Haryana
Hisar, 05 April, 2019

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कांग्रेस चार पीढ़ियों से गरीबी हटाओ का नारा दे रही है। हर चुनाव में गरीबी हटाने का वादा किया जाता है, लेकिन आज तक धरालत पर काम नहीं किया। पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू फिर इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, मनमोहन सिंह और अब राहुल गांधी। हर चुनाव में कांग्रेस लोक-लुभावने वादे करके जनता को गुमराह करती है। पांच दशक तक कांग्रेस की सरकार रही, लेकिन कभी भी गरीबों की भलाई के बारे में नहीं सोचा, केवल गरीबों को वोट के रूप में प्रयोग किया। कांग्रेस का घोषणा पत्र ढकोसला है। उसमें देशद्रोही ताकतों का समर्थन किया गया है और सेना के शौर्य व सम्मान को भी ठेस पहुंचाई गई है। भाजपा सरकार ने सेना को चुनौती देने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सेना को खुली छूट दी कि सेना को ललकराने वालों को मुंह तोड़ जवाब दिया जाए। पुलवामा हमले के बाद सेना ने अपने शौर्य व पराक्रम को दिखाते हुए पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों को मारा।

मुख्यमंत्री शुक्रवार को हिसार के गांव कैमरी में विजय संकल्प को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की जनता को फैसला करना है कि देश में चल रही सरकार को स्थायी रखना है या फिर देश में अलगाववादी विचारधारा को बढ़ावा देना है। कांग्रेस की मंशा देश को जोड़ने की नहीं बल्कि तोड़ने की है। तभी तो कांग्रेस देश के टुकड़े करने वालों के समर्थन में देशद्रोह को समाप्त कर रही है। इन सब बातों को हरियाणा की जनता को मंथन करना होगा कि देशविरोधी ताकतों का समर्थन करना है या फिर देश को मजबूती व सुरक्षा देने वाले चौकीदार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाना है। सेना को कमजोर करने के लिए कांग्रेस जम्मू कश्मीर से अफस्पा हटाने को लेकर मानवाधिकारों की दुहाई दे रही है, क्या सेना पर पत्थरबाजी करने वालों के ही मानवाधिकार हैं। सेना का कोई मानवधिकार नहीं है। जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार की योजनाएं भी गिनाई। उन्होंने पारदर्शिता के आधार पर नौकरी देने और किसानों को पेंशन देने की योजना के बारे में जनता को विस्तार से बताया।

कांग्रेस केवल ख्वाबों में

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर कांग्रेस में मचे घमासन पर निशाना साधा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इनेलो के दो विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद इनेलो से नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी छिन गई। कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को संभाल नहीं पा रही है। आपसी कलह की कुर्सी भेंट चढ़ रही है। कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने नेता प्रतिपक्ष का दावा किया, लेकिन उनके प्रदेशाध्यक्ष ने उनके दावे को नकारते हुए कहा कि उनके पत्र लिखने से क्या होता है। इससे स्पष्ट होता है कि कांग्रेस केवल ख्वाबों में ही सीएम की कुर्सी देख रही है। हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने गुटबाजी में बंटी कांग्रेस को एकजुट करने के लिए बस में बैठाया, लेकिन कौन कहां से चढ़ा और कहां उतरा किसी को पता नहीं।

सरसों का एक-एक दाना खरीदेगी सरकार

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार सरसों का एक-एक दाना खरीदेगी। केंद्र सरकार 40 प्रतिशत और बाकी बची सरसों को प्रदेश सरकार खरीदेगी। पहले गरीब परिवारों को एक बोतल सरसों के तेल की दी जाती थी और अब दो दी जा रही है। यदि जरूरत पड़ी तो सरसों के तेल को बाजार में भी बेचा जाएगा।

हिसार से कमल का फूल देना है पीएम मोदी को : अभिमन्यु

वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कैमरी में आयोजित जनसभा में आह्वान किया कि हिसार से कमल का फूल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देना है। पिछली बार चूक रह गई थी, लेकिन इस बार चूक में सुधार करते हुए नेशनल हाइवे-9 की तीनों सीटें जिताने का काम करना है। कैप्टन ने कहा 2019 का चुनाव सामान्य सांसद चुनने का चुनाव नहीं, बल्कि 2019 का चुनाव वर्तमान और आने वाली पीढ़ी का चुनाव है, हिन्दुस्तान का चुनाव है। 21वीं शताब्दी को अपने नाम लिख पाएगा इसका चुनाव है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुकाबले में आज विश्व में कौन है, भारत का बेटा, पिछड़े परिवार का बेटा दुनिया का सबसे बड़ा लोकप्रिय नेता बन गया है। जबकि विपक्ष में कौन नेता होगा इसकी लड़ाई चल रही है, विपक्ष का यही फैसला है कि हिंदुस्तान को मजबूत नहीं बनने देना है। कैप्टन ने परिवारवाद पर जमकर हमला बोला। कांग्रेस के घोटालों पर चुटकी लेते हुए कैप्टन ने कहा कि सोनिया, राहुल और दामाद और पूर्व सीएम हुड्डा जमानत पर हैं।

कौन होगा प्रधानमंत्री, जनता को करना फैसला : बराला

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि जनता को फैसला करना है देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा और किस पार्टी की सरकार बनानी है। यह फैसला छोटा नहीं है, सीएम मनोहर लाल के नेतृत्व की सरकार देखी और पहले के मुख्यमंत्रियों की सरकार को देखा है और पांच साल से जो सरकार इस देश के अंदर नरेंद्र मोदी की सरकार देखी है। नरेन्द्र मोदी की सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ, किसी नेता का नाम भ्रष्टाचार में सामने नहीं निकल कर आया। पहले की सरकारों में नेताओं के नाम जमीन, कोयला घोटाला में नाम आता था, लेकिन अब भाजपा सरकार में किसी का नाम नहीं आया है।

इनकी रही उपस्थिति
भारी गर्मी और उमस के बावजूद हजारों की भीड़ मुख्यमंत्री मनोहर लाल को सुनने पहुंची थी। महिलाओं और युवाओं का जोश और उत्साह देखते ही बन रहा था। इस अवसर पर हिसार विधायक कमल गुप्ता, पूर्व विधायक रणबीर गंगवा, राज्यसभा सदस्य डीपी वत्स विधायक विशंभर वाल्मीकी, कांफेड चेयरमैन कैप्टन भूपेंद्र, प्रोफेसर छत्रपाल, जिला अध्यक्ष सुरेंद्र पूनिया, जिला महामंत्री सुजीत कुमार, महामंत्री गोलू गुज्जर सहित अन्य नेता मौजूद रहे।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

‘युवा हरियाणा टॉप न्यूज़’ में पढ़िए आज की सभी बड़ी खबरें फटाफट

Top News Yuva Haryana 03 july 1. हरियाणा म…