Home Breaking हरियाणा दिवस पर मुख्यमंत्री ने की कई बड़ी घोषणाएं, दस नवंबर को केएमपी का होगा उद्घाटन

हरियाणा दिवस पर मुख्यमंत्री ने की कई बड़ी घोषणाएं, दस नवंबर को केएमपी का होगा उद्घाटन

0
0Shares

Yuva Haryana
Chandigarh, 01 Nov, 2018

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा दिवस के मौके पर प्रदेश के लोगों के लिए सौगातों की झड़ी लगाते हुए ग्रामीणों को बड़ी राहत देते हुए लाल डोरे की प्रथा को खत्म करने की घोषणा की और कहा कि अब प्रोपर्टी की रजिस्ट्री हो सकेगी और उनका रैवन्यू रिकोर्ड भी बनाया जाएगा। वहीं मुख्यमंत्री ने आज से वृद्धावस्था, विधवा व दिव्यांग पेंशन की राशि बढाक़र 2000 रुपए कर दिए जाने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने आज पानीपत में विधायक महिपाल ढांडा द्वारा आयोजित जनविश्वास रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि अब प्रदेश के सभी भूतपूर्व सरपंचों, जिला परिषदों व ब्लॉक समितियों के प्रधानों को सम्मान के रूप में एक अवधि (योजना) के लिए 1000 रुपये प्रति माह तथा अधिकतम 2000 रुपये प्रति माह पैशन देने की घोषणा की। ढ़ाई साल या इससे अधिक के कार्यकाल को पूरी अवधि माना जायेगा।

मुख्यमंत्री ने सभी नगर निगमों के सभी भूतपूर्व मेयर को भी हर अवधि के लिए 2500 रूपये तथा भूतपूर्व सीनियर डिप्टी मेयर, भूतपूर्व डिप्टी मेयर, हर नगर परिषद के प्रधान को 2000 रूपये व नगर पालिका के भूतपूर्व प्रधानों को हर अवधि के लिए 1000 रुपये प्रति माह उन्हें सम्मान के रूप में पैंशन देने की घोषणा भी की। यह पैंशन अधिकतम दो अवधि (योजना) के लिए दी जायेगी।

सरकार के किसी भी विभाग/बोर्ड/कार्पोरेशन तथा स्थानीय निकायों में काम करने वाले सभी लाईन मैन, सहायक लाईन मैन, फायर मैन, फायर ड्राईवर और सीवर मैन को उनका काम अधिक जोखिम भरा होने के कारण, सरकार द्वारा अपने खर्चे से 10 लाख रूपये का जीवन बीमें की सुविधा उपलब्ध करवाने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ सभी रजिस्टर्ड सीवर मैन को भी दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 20 नवम्बर, 2017 को हरियाणा सरकार के सभी कर्मचारियों को 6 तरह की बीमारियों के लिए कैश-लैस स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाई गयी थी। अब इसका स्कोप बढ़ाकर सभी बीमारियों तक बढ़ाने तथा चिकित्सा प्रतिपूर्ती की सारी की सारी स्कीम को कैश-लैस करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में आई0टी0आई0, पोलीटेक्निक, कॉलेजों तथा यूनिवर्सिटियों में पढ़ने वाले सभी छात्र-छात्राओं को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सरकारी दफतरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगें। सभी इच्छुक विद्यार्थियों के लरनिंग लाईसेंस अब इन संस्थानों के प्रधानाचार्यों द्वारा ही जारी किए जायेंगे तथा रेगूलर लाईसेंस के लिए ड्राईविंग टेस्ट भी उन्हीं के शिक्षा संस्थानों में वहीं लिए जायेंगे तथा ड्राईविंग टेस्ट में पास होने का प्रमाणपत्र भी वहीं से जारी किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘सक्षम युवा सम्मानित हुआ स्कीम’ 1 नवम्बर, 2016 को शुरू की गई थी। इसके तहत पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री वाले बेरोजगार युवकों को हर महीने 100 घण्टे काम दिया जाता है। इस कार्य में मानदेय और बेरोजगार भत्ते को मिलाकर 9000 रुपये प्रति माह दिया जाता है। इसके बाद 1 नवम्बर, 2017 को बीएससी, बीकॉम, बीए मैथस के लिए भी इस स्कीम को लागू किया गया। मानदेय और बेरोजगार भत्ते को मिलाकर उन्हें 7500 रुपये प्रति माह दिया जाता है। इस समय 30668 पोस्ट ग्रेजुएट और 22124 ग्रेजुएट इस स्कीम में रजिस्टर्ड हैं। उन्होंने आज 1 नवम्बर, 2018 से हर प्रकार के स्नातक के लिए स्कीम को लागू करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने सभी गे्रजुएट बेराजगार युवाओं से अनुरोध है कि वे इस स्कीम के तहत लाभ लेने के लिए अपना नाम जल्दी से जल्दी रजिस्टर करवायें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने 4 साल में 2279 कि0मी0 लंबी नई सड़कें बनाई हैं इसके अलावा 1505 कि0मी0 नई सड़कों की स्वीकृति दी है। जिन पर काम चल रहा है। इनमें  689 कि0मी0 लोक निर्माण विभाग तथा 816 कि0मी0 एचएसएएमबी की है। उन्होंने घोषणा की कि अब खेतों को जाने वाले रास्ते जो 3/4 करम के हैं, को पक्का किया जायेगा। इसी वित्त वर्ष के दौरान हमारी सरकार हर विधानसभा क्षेत्र में 25 कि0मी0 लम्बे रास्ते को पक्का कर रही है।

मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि भविष्य में सिचांई विभाग द्वारा खाले 24 फुट प्रति एकड़ की बजाए 40 फुट प्रति एकड़ के हिसाब से बनाएं जाऐंगें।

मुख्यमंत्री ने केएमपी के पूर्ण होने की बधाई देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 10 नवंबर को इसका उद्घाटन किया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र पानीपत ग्रामीण वासियों को मनोहर सौगात देते हुए लगभग 78 करोड़ रुपये की 36 विकास परियोजनाओं की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने रैली से पूर्व नए सरकारी अस्पताल में 200 बैड के नए ब्लॉक का भी उद्घाटन किया। उन्होंने रैली स्थल पर 30 एमएलडी क्षमता के मलजल शोधन संयत्र और सरकारी वैट्रनरी पॉली क्लीनिक का उद्घाटन व समालखा से इसराना सडक़ तथा समालखा से सनौली सडक़ की आधारशीला रखी।

मुख्यमंत्री ने पानीपत ग्रामीण के विधायक द्वारा रखी गई 36 मांगों को स्वीकृति प्रदान की। जिसमें मुख्य रूप से पानीपत नगर निगम क्षेत्र के हर वार्ड में 3 टयूबवेल, नहर के साथ लगती गोहाना से असंध सडक़ को फोर लेन बनाने, एनएफएल तक आरसीसी, ड्रेन नम्बर 1 से सनौली रोड तक आरसीसी की पक्की सडक़ बनाने, बाल विकास स्कूल मॉडल टाउन से जाटल रोड़ रजवाहे के ऊपर व जाटल रोड़-गोहाना रोड़ रजवाहे के ऊपर तक सडक निर्माण करने, सैक्टर 12 में पुराने सामुदायिक केन्द्र के स्थान पर बहुउद्ेशीय हॉल, 2 बड़ी व 4 छोटी वैक्यूम क्लीनर मशीनें उपलब्ध करवाना शमिल है। इसके अलावा गन्दे पानी के निकासी के लिए आरसीसी ड्रेन के निमार्ण के लिए 10 करोड़ रूपये और अन्य कार्यो के लिए 15 करोड़ रूपये अलग से देने की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसराना विधानसभा के लिए वर्ष 2018 की 39 करोड़ रुपये की 29 घोषणाएं की गई हैं। इसके अलावा पानीपत की तरह अन्य कार्यों के लिए इसराना को भी 15 करोड़ रुपये अलग से देने की घोषणा की।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

…दादी जी को याद कर भावुक हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला

Yuva Haryana News Chandigarh, 11 August, 2020 हरियाण&#…