ग्रुप D की 38 हजार नौकरियां निकलने वाली हैं, 10% कोटा होगा खिलाड़ियों का -मुख्यमंत्री

Breaking बड़ी ख़बरें राजनीति रोजगार सरकार-प्रशासन स्थानीय हरियाणा

सीएम मनोहर लाल ने जींद जिले के अलेवा गांव में करीब तीन करोड़ से बनने वाले बस स्टैंड का शिलान्यास किया है। साथ ही मुख्यमंत्री ने पेगा गांव में 23 एकड़ में 20 करोड़ से बनने वाले चालक प्रशिक्षण केंद्र निर्माण का भी शिलान्यास किया। कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह, उचाना से विधायक प्रेमलता मौजूद रहे। इस मौके पर उचाना हलके के छात्तर गांव में एक जनसभा भी रखी गई थी।
जनसभा में सीएम ने कहा कि आने वाले दिनों में ग्रुप डी की 38 हजार नौकरियां निकलेंगी, जिनमें खिलाडिय़ों को दस प्रतिशत का कोटा दिया जाएगा। कुछ ही महीनों में सात हजार पुलिसकर्मियों की भी भर्ती होगी जिसमें कोई इंटरव्यू नहीं होगा। खट्टर ने कहा कि अब से पहले जो सरकारें थी उनमें सिफारिश, रुपयों से नौकरियां मिली थी।

सीएम मनोहर लाल ने जनसभा में पूछा कि जिनके पास गैस सिलेंडर नहीं है, वो हाथ उठा कर बताए। पांच महिलाओं ने इस पर हाथ उठाए तो सीएम ने कहा कि 48 घंटे के अंदर प्रशासन ने उनको गैस सिलेंडर मुहैय्या नहीं करवाया तो डीसी के घर चले जाना या आपकी विधायक की रसोई से गैस सिलेंडर उठा लाना। छातर गांव में अब तक हमारी सरकार में छह करोड़ रुपए से अधिक की राशि विकास पर खर्च हुई है। यहां से 30 युवाओं को रोजगार हमारी सरकार में मिला है।
उन्होंने कहा कि अलेवा के लोगों द्वारा वर्षों से बस स्टैंड बनाने की मांग की जाती रही है। इस मांग के पूरा होने के बाद अलेवा के साथ-साथ आस-पास के गांवों के लोगों को फायदा होगा। ड्राईविंग स्कूल को लेकर पहले खटकड़, डाहोला गांवों में जमीन देखी गई लेकिन पेगां गांव में इसको मंजूरी मिली। यहां ड्राईविंग स्कूल बनने से इसका फायदा आस-पास के गांव के युवाओं को होगा। सीएम मनोहर लाल ने छातर को महाग्राम योजना के तहत दस करोड़ रुपए, विकास कार्य के लिए दो करोड़ 60 लाख रुपए, तीन तालाबों की चारदीवारी के लिए 72 लाख, ग्राम सचिवालय के लिए 30 लाख रुपए, छातर से लोधर, मांडी से कमालपुर तक सड़क निर्माण, गोशाला के लिए 21 लाख रुपए की राशि मंजूर की।

 

मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि बांगर का यह एरिया जिसमें छातर गांव आता है, असल हरियाणा के बीच में पड़ता है। यहां के लोग सच्चे व इमानदार है, लेकिन राजनैतिक लोगों के बहकावे में आ जाते है। यही कारण रहा कि यह क्षेत्र काफी पिछड़ता गया है।  पूर्व में राजनैतिक उपेक्षा के कारण यहां अन्य हलकों की तरह विकास नही हो पाया। उन्होंने दोहराया कि मैं राजनीति में किसी प्रकार की चौधर के लिए नहीं आया हूं , बल्कि सेवा भाव को लेकर आगे भी काम करता रहूंगा। उन्होंने कहा कि मौका मिलेगा तो आगे भी सेवा भाव से लोगों की सेवा करता रहूंगा। उन्होंने कहा कि आप लोग चौधरी बीरेन्द्र सिंह का मजबूती से पल्ला पकड़े रखना ।
उन्होंने लोगों को सलाह दी कि वे बिजली के बिल भरें। म्हारा गांव जगमग गांव योजना के तहत बिल भरने वालें गांव को 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। लाईन लॉस को कम करने के लिए कुण्डी कनैक्शन नही लगाने चाहिए। उन्होंने कहा कि डेढ लाख लोग गलत तरीके से बुढापा पैंशन ले रहे थे। सरकार द्वारा बैंकों के जरीये पैंशन उपलब्ध करवाने से ये गलत पैंशन तरीके से पैंशन प्राप्त करना उजागर हुआ है। इस प्रकार एक हजार करोड रुपये की बचत हुई है।
केंद्रीय मंत्री से मांग करते हुए विधायक प्रेमलता ने कहा कि हलके में बेरोजगारी है। यहां की बेरोजगारी खत्म हो, इसलिए इस्पात का कोई कारखाना यहां लग जाए तो युवाओं को रोजगार मिलेगा। प्रेमलता ने कहा कि हमारी सरकार ने ईमानदारी से काम करते हुए रोजगारा, विकास करने का काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *