सरकार के लोकलुभावन फैसले शुरू, गुरुग्राम की 15 अवैध कालोनियां नियमित करने की घोषणा

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा
Yuva Haryana

Chandigarh, 30 March 2018

हरियाणा शहरी स्थानीय निकाय विभाग ने नगर निगम गुरुग्राम क्षेत्र की 15 कॉलोनियों को नियमित करने की घोषणा की है। सरकार ने इन कॉलोनियों में पडऩे वाले प्लॉटों और भवनों के नियमन के लिए एक पॉलिसी मैकेनिज्म मंजूर किया है।

विभाग ने जिन 15 कॉलोनियों के नियमितीकरण की घोषणा की है, उनमें कैनकॉन इन्कलेव पार्ट-1 एवं पार्ट-2, भीम कॉलोनी, हरीनगर एक्सटेंशन पार्ट-1 एवं पार्ट-2, श्रीराम कॉलोनी, देवीलाल एक्सटेंशन, न्यू ज्योति पार्क, पटेल नगर एक्सटेंशन, शिव नगर, विकास नगर, टीकरी गांव के आसपास का क्षेत्र, घसोला गांव, नाहरपुर रूपा गांव, झाड़सा गांव एक्सटेंशन के आसपास का क्षेत्र, सूरत नगर फेज-1 एक्सटेंशन तथा गांव हरसरू के आसपास का क्षेत्र शामिल है।
इन कॉलोनियों में नागरिक सुविधाओं और इनफ्रास्ट्रक्चर की कमी है। पॉलिसी मैकेनिज्म के तहत प्लॉट एवं भवन मालिक 6 माह के भीतर पॉलिसी मैकेनिज्म में दिए गए मानकों का अनुपालन करेंगे।
इन कॉलोनियों में जिन प्लॉट मालिकों ने पहले से ही घरों का निर्माण किया हुआ है, वे जांच शुल्क 10 रुपए प्रति 10 वर्ग मीटर कवर क्षेत्र तथा विकास शुल्क 1250 रुपए प्रति वर्ग मीटर के साथ अपना बिल्डिंग प्लान जमा करेंगे। हरसरू गांव के आसपास के क्षेत्र के लिए सक्षम प्राधिकारी द्वारा 750 रुपए प्रति वर्ग मीटर विकास शुल्क निर्धारित किया गया है।
खाली प्लॉटों के मामले में प्लॉट मालिकों को हरियाणा बिल्डिंग कोड-2017 में आवश्यक दस्तावेजों व जांच शुल्क के साथ 1250 रुपए प्रति वर्ग मीटर विकास शुल्क के साथ बिल्डिंग प्लान हेतु आवेदन करना होगा।
यदि कोई व्यक्ति विकास शुल्क को किस्तों में जमा करवाना चाहता है, तो बिल्डिंग प्लान की प्रोविजनल मंजूरी दे दी जाएगी, लेकिन अंतिम मंजूरी विकास शुल्क के पूर्ण भुगतान के बाद ही मिलेगी। विकास शुल्क 6 समान किस्तों में 6 प्रतिशत ब्याज सहित 3 वर्ष में जमा करवाया जा सकता है।
इस सूचना के बाद अगर कोई व्यक्ति 6 माह के भीतर बिल्डिंग प्लान हेतु आवेदन नहीं करता है, तो हरियाणा नगर निगम अधिनियम-1994 के तहत ऐसे निर्माणों को अनधिकृत मानते हुए उनके खिलाफ सीलिंग और ध्वस्त करने जैसी कार्रवाई की जाएगी। प्लॉट एवं भवन मालिक 30 अप्रैल 2018 से पहले विकास शुल्क का एकमुश्त भुगतान करके 10 प्रतिशत की छूट का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। 
इन कॉलोनियों की सिजरा योजना और ले-आऊट योजना नगर निगम गुरुग्राम के सैक्टर-34 स्थित कार्यालय की तीसरी मंजिल पर प्लानिंग विंग में किसी भी कार्यदिवस के दौरान देखी जा सकती है।
इससे संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए टेलीफोन नंबर 0124-2371977 तथा ई-मेल stp@mcg.gov.in पर संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *