राफेल डील मामले पर सरकार को घेरने में लगा विपक्ष, आज किरण चौधरी की अगुवाई में प्रदर्शन

Breaking Uncategorized चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष
Yuva Haryana News
Bhiwani, 14 Sept, 2018
चुनाव की आहट को देखते हुए सत्ता पक्ष को घेरने के लिए विपक्ष हर रोज नए-नए मुद्दों को लेकर सङकों पर उतर रहा है। कांग्रेस राफेल मामले में आए दिन विरोध प्रदर्शन कर सरकार के लिए बैचेनी बढा रही है। भिवानी में भी इसी मामले में सीएलपी लीडर किरण चौधरी ने अपने हजारों समर्थकों के साथ नेहरू पार्क से लेकर पुराना बस अड्डा होते हुए लघु सचिवालय तक प्रदर्शन किया। यहां पर किरण चौधरी ने डीसी के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंप कर राफेल मामले की जांच की मांग की।
इस दौरान मीडिया से रुबरु होते हुए किरण चौधरी ने सबसे पहले राफेल मामले को 41 हजार करोङ डालर का घोटाला बताया और कहा कि ये सब आपातकाल के बहाने पूंजिपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने किया है। उन्होने कहा कि कहने को बीजेपी जीरो टोलरेंस की बात करती है लेकिन एक के बाद करोङों रुपये के भ्रष्टाचार ने सारी पोल खोल दी है। किरण चौधरी ने कहा कि भाजपा की सरकार किसान, गरीब, मजदूर, कर्मचारी, युवा, महिला सभी के खिलाफ है और ऐसे में अब जनता केवल चुनाव में इन्हे सबक सिखाने का इंतजार कर रही है।
वहीं रेवाङी जिला के कोसली क्षेत्र में प्रदेश की टॉपर रही छात्रा से दुष्कर्म मामले पर किरण चौधरी ने सरकार को जमकर घेरा। किरण चौधरी ने कहा कि ऐसी घिनोनी घटना शर्मशार कर देने वाली और सिर को झुका देने वाली घटना है। उन्होने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढाओ का नारा देने वाली सरकार ने तुरंत कार्यवाई करवानी चाहिए थी, लेकिन सरकार की ढील से प्रशासन कार्यवाई कर आरोपियों की गिरफ्तारी की बजाय पीङिता के परिजनों को ही धक्के दे रहा है। किरण चौधरी ने कहा कि जल्द कार्यवाई होती तो अच्छा मैसेज जाता लेकिन सरकार गुरेज कर रही है।
वहीं विधानसभा में करण दलाल व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला के बीच छिङी जुबानी जंग मामले में किरण चौधरी ने कहा कि विस में सरकार काम के मुद्दों पर चर्चा नहीं करती। उन्होने कहा कि मैने 50 सवाल जनहित में पुछे लेकिन केवल एक का जवाब दिया। वहीं 10 ध्यानाकर्षण प्रस्तावों में से एक पर भी ध्यान नहीं दिया। उन्होने कहा कि विस सत्र का अंतिम दिन विस के इतिहास में काला दिन कहा जाएगा। किरण ने कहा कि अब जगजाहिर हो चुका है कि इनेलो व भाजपा एक ही थाली के चटेपटे हैं और इनकी राजनितीक कुटनिती लोगों को बांटने की है। उन्होने कहा कि स्पीकर ने दबाव में आकर एकतरफा कार्यवाई करते हुए करण दलाल को एक साल के लिए विस से निलंबित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *