जींद में सारे कांग्रेसी मिलकर नहीं कर पाए युवा दिग्विजय का मुकाबला – दुष्यंत चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Jhajjar, 13 March, 2019

जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व हिसार से सांसद दुष्यन्त चौटाला ने रोहतक लोकसभा सीट को जल्द चौधरी देवीलाल का गढ़ बनाने की बात कही है। उन्होंने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि यदि जेजेपी मजबूती के साथ लड़ती है तो वह दिन दूर नहीं है जब चौधरी देवीलाल का गढ़ कहा जाने वाला रोहतक संसदीय क्षेत्र फिर से देवीलाल के गढ़ के नाम से जाना जाएगा। दुष्यंत ने कहा कि भाजपा सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा की लगातार अनदेखी कर रही है। कांग्रेस ने अपने 10 वर्ष के शासनकाल में कुछ नहीं किया और साढ़े चार वर्षों से भाजपा भी उसी राह पर चल रही है। दुष्यंत ने मंगलवार को झज्जर के गांव हसनपुर में जेजेपी की तरफ से आयोजित एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए ये बात कही। मंगलवार को ही दुष्यंत चौटाला ने रेवाड़ी जिले में भी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित किया।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से आहवान किया कि जो लोग अन्य पार्टियों को छोड़कर जेजेपी में आना चाहते है उन्हें वह ज्यादा से ज्याद जोड़े। पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं को पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि लोकसभा चुनाव में केवल 60 दिन बाकी है, इसलिए सभी को एकजुट होकर यह चुनाव लड़ना होगा तभी वह जजपा की जीत यहां से सुनिश्चित कर पाएंगे। उन्होंने मंच से कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए रोहतक संसदीय क्षेत्र के सांसद दीपेन्द्र हुड्डा पर जनता के अधिकारों की आवाज संसद में न उठाने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में सांसद दीपेन्द्र सहित अन्य सांसदों के मुकाबले उन्होंने संसद में ज्यादा हरियाणा की आवाज बुलंद की है। जंहा संसद में उन्होंने हरियाणा की जनता के प्रत्येक मुद्दे को उठाया वहीं दीपेंद्र हुड्डा और भाजपा के तमाम सांसद इसमें नाकाम रहे, जिसका बदला जनता इस लोकसभा चुनाव में उन्हें हरा कर लेगी।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जिस समय हरियाणा में उन्होंने जननायक जनता पार्टी का गठन किया, उस समय इनेलो, कांग्रेस व भाजपा इसे बच्चों की पार्टी बताती थी। लेकिन जींद उपचुनाव ने यह साबित कर दिया कि भाजपा का एकमात्र विकल्प केवल अब जजपा ही है। उन्होंने कहा कि जींद उपचुनाव में राहुल गांधी, भूपेन्द्र हुड्डा, अशोक तंवर, किरण चौधरी व कैप्टन अजय यादव सहित कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता रणदीप सुरजेवाला के साथ थे लेकिन उनकी जमानत भी बड़ी मुश्किल से बच पाई। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पूरे देश ने देखा कि सारे कांग्रेसी मिलकर भी दिग्विजय चौटाला से मुकाबला नहीं कर पाए। इस उपचुनाव में इनेलो का जो हाल हुआ उसका तो यहां जिक्र करना ही वक्त की बर्बादी है।

इस मौक पर जिलाध्यक्ष राकेश जाखड़, एडवोकेट बलवान सिंह सुहाग, संजय दलाल बहादुरगढ़, संजय कबलाना, प्रीतम कुकडौला, सतपाल पहलवान, मामन ठेकेदार, धर्मेन्द्र पार्षद, मास्टर रामचंद्र, बबीता पूनिया, अजय गुलिया, राजेन्द्र ऐहरी, रामबीर सरपंच, दिलबाग खेड़का, मास्टर रण सिंह,  जगफूल बादली,  सत्यवान हसनपुर, बलवान सिंह, जगदेव पेल्पा, होशियार पेल्पा, शीला फोगाट,  विजय पटोदा, सतपाल धौड़,  दयानंद, महावीर चांदपुर, महावीर शर्मा सहित काफी संख्या में जेजेपी के स्थानीय नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *