योग गुरु बाबा रामदेव पर दर्ज मामले को लेकर हिसार कोर्ट में हुई सुनवाई

Breaking चर्चा में देश बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Hisar, 9 April, 2019

आज बाबा रामदेव के केस को लेकर हिसार के जिला न्यायालय में सुनवाई हुई। मामले के अनुसार बाबा रामदेव की तरफ से 25 अप्रैल 2014 को लखनऊ में राहुल गांधी पर टिप्पणी करते हुए दलितों के खिलाफ अपमानजनक बातें कह दी थी, जिसके बाद अधिवक्ता रजत कल्सन ने इसके खिलाफ पुलिस में शिकायत दी थी।

पुलिस के कार्यवाही ना करने पर हांसी की फौजदारी अदालत में उसके खिलाफ क्रिमिनल मुकदमा दायर किया था, जिसका क्रिमिनल रिवीजन पिटिशन अब आरके जैन अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश की अदालत में लंबित है, जिससे ट्रांसफर कराने के लिए एक ट्रांसफर पिटीशन दायर की गई थी।

बाबा रामदेव के वकील लाल बहादुर खोवाल ने बताया कि एडवोकेट रजत कलसन ने बाबा रामदेव के खिलाफ 153 ए, 153 एए और 354 एससीएसटी एक्ट के तहत हांसी थाना में शिकायत दी थी, जिसके बाद शिकायतकर्ता ने कोर्ट में मुकदमा डाला।

कोर्ट से शिकायत पर संज्ञान नहीं लिया, जिसके बाद शिकायतकर्ता ने हिसार कोर्ट में याचिका डालकर मामले को एससी- एसटी कोर्ट में ट्रांसफर करने की मांग की है।

बाबा रामदेव के वकील लाल बहादुर खोवाल ने कहा कि जिन धाराओं के तहत दावा किया गया है, उनमें धारा 196 के तहत सरकार से अनुमति लेनी होती है, जो इस मामले में नही ली गई है। उन्होंने कहा कि यह केस एससी-एसटी की स्पेशल कोर्ट का भी नहीं बनता है क्योंकि मामला लखनऊ का है।

लालबहादुर खोवाल ने बताया कि स्पेशल कोर्ट में मामले को ट्रांसफर करने की अपील को लेकर 19 अप्रैल को बहस की जाएगी।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *