छत्रपति हत्याकांड मामले में रोहतक में हो सकती है राम रहीम की पेशी, सुरक्षा को लेकर अधिकारियों ने की बैठक

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Chandigarh, 5 Jan,2019

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड के मुख्य आरोपी डेरा प्रमुख राम रहीम को 11 जनवरी को सीबीआई कोर्ट में पेश होने के आदेश हैं। जिसे लेकर पुलिस प्रशासन सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम करने में लग गया है। इस मामले को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की एक अहम मीटिंग भी हो चुकी है। जिसमें कई फैसले लिए गए हैं।

पुलिस प्रशासन पहले की घटना को ध्यान में रखते हुए फैसला ले सकता है कि राम रहीम को रोहतक में ही पेश करना उचित होगा। क्योंकि उसे सड़क मार्ग से पंचकूला विशेष सीबीआई कोर्ट में लाना खतरे से खाली नहीं है। यदि सड़क मार्ग से राम रहीम को लाया जाता है तो पुलिस को कई तरह की परेशानीयों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं, यदि उसे चॉपर से पंचकूला लाया जाता है तो समाज में इसका संदेश गलत जाएगा। सबसे बड़ा सवाल यह भी है कि चॉपर का खर्च कौन उठाएगा। शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए जा रहे हैं। हालांकि अधिकारियों ने अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है।

कोर्ट परिसर से लेकर सेक्टर-एक की सुरक्षा की तैयारीयों का भी जायजा लिया जा रहा है। राज्य में सुरक्षा के लिए आवश्यक इंतजाम करना पुलिस विभाग की जिम्मेदारी है। क्योंकि 2017 में सीबीआई कोर्ट की ओर से राम रहीम को दोषी ठहराने के बाद अनुयायी भड़क उठे थे, जिसमें 38 लोगों की मौत हो गई थी। इसलिए उसे पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट में पेश करना अनुचित होगा तो उसे रोहतक में पेश किया जा सकता है।

वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि सीबीआई कोर्ट की ओर से जारी आदेश में पंचकूला के नाम का उल्लेख नहीं किया गया है। इसलिए राम रहीम को रोहतक में ही पेश किया जा सकता है, जहां वह पहले से ही 20 साल की सजा काट रहा है। पुलिस विभाग के उच्च अधिकारी डीजीपी बीएस संधू, डीजी जेल केवल राज और एडीजी ऑपरेशन एएस चावला राम रहीम को अदालत में पेश करने के लिए एक-दूसरे के संपर्क में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *