मंत्री मनीष ग्रोवर और भाजपा नेता पर केस दर्ज न करने को लेकर कोर्ट ने एसपी को भेजा नोटिस

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Rohtak, 30 July, 2019

रोहतक के काठमंडी स्थित मतदान केंद्र पर लोकसभा चुनाव में हुए विवाद को लेकर कोर्ट ने पुलिस अधीक्षक व शिवाजी कालोनी थाना प्रभारी को अवमानना का नोटिस जारी किया है।

कोर्ट ने जवाब मांगा है कि आखिर सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर और बीजेपी रमेश लौहार के खिलाफ एफआईआर दर्ज क्यों नहीं की गई, जबकि अतिरिक्त एवं सत्र न्यायाधीश रीतू बहल की अदालत ने 24 जुलाई को पुलिस की पुर्न याचिका रद्द कर दी थी और पुलिस को इस संबंध में केस दर्ज करना था।

बार एसोसिएशन के प्रधान लोकेंद्र फौगाट की तरफ से दायर याचिका पर पक्ष रखते हुए वकील ने कहा कि ये सीधे- सीधे अदालत की अवमानना है। उन्होंने कहा कि पुलिस को केस दर्ज करना चाहिए था, लेकिन पुलिस मंत्री को बचाने के प्रयासों में लगी है। अब इस पर ज्यूडिशल मैजिस्ट्रेट विवेक सिंह की अदालत ने पुलिस अधीक्षक और थाना प्रभारी को अवमानना का नोटिस भेजकर 31 जुलाई को जवाब देने को कहा है।

बता दें कि सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर और भाजपा नेता रमेश लौहार पर बूथ कैप्चरिंग और धोखाधड़ी सहित कई गंभीर आरोप लगे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *