कोर्ट ने जाट नेता यशपाल मलिक सहित 26 आरोपियों को किया बरी, पढ़िए क्या था मामला-

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Hisar, 5 July, 2019

लघु सचिवालय के गेट के आगे राजगढ़ रोड जाम करने के मामले में न्यायिक दंडाधिकारी जसबीर कौर की अदालत ने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक सहित 26 आरोपियों को बरी कर दिया है।

बता दें कि 17 जून 2014 में सिविल लाइन पुलिस द्वारा ये मामला दर्ज किया गया था। अभियोग के मुताबिक बालसमंद एरिया के बुड़ाक और आस-पास के अन्य गांवों के किसानों ने हिसार- राजगढ़ मार्ग को लघु सचिवालय के आगे जाम कर दिया था। किसानों ने नहरी पानी की मांग को लेकर सचिवालय के आगे पड़ाव डाला था।

इस मामले में पुलिस का कहना था कि जाट नेता यशपाल मलिक भी मौजूद थे और पुलिस ने मलिक व किसानों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया था। जिसके बाद मलिक ने बताया कि वे उस दिन हिसार में मौजूद ही नहीं थे। अब कोर्ट ने सुनवाई करते हुए यशपाल मलिक और 26 आरोपियों को बरी कर दिया है। जिसमें एक की मौत हो चुकी है और 10 भगौड़े घोषित किए जा चुके हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *