Home Breaking अस्पताल की छठी मंजिल से की भागने की कोशिश, गिरने से हुई मौत, आइसोलेशन वार्ड में था भर्ती

अस्पताल की छठी मंजिल से की भागने की कोशिश, गिरने से हुई मौत, आइसोलेशन वार्ड में था भर्ती

0
0Shares

Kamarjeet Virk

Yuva Haryana, Karnal

करनाल के कल्पना चावला मेडिकल हॉस्पिटल के 6th फ्लोर से आइसोलेटेड वार्ड की खिड़की से कोरोना संदिग्ध मरीज भागने का प्रयास करता है , लेकिन खिड़की से गिरने से उसकी मौत हो जाती है। मृतक शिवचरण पानीपत के घड़ी नूरपुर गांव का रहने वाला था और उसे इलाज के लिए 1 अप्रैल को कल्पना चावला मेडिकल हॉस्पिटल के आइसोलेटड वार्ड में भर्ती किया था। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

खिड़की से लटकती इस रस्सी को देखिए, पहले एक कपड़ा , फिर एक कमीज, फिर बेडशीट, फिर एक पॉलीथिन, फिर एक पाइप को जोड़कर करनाल के कल्पना चावला कल्पना चावला मेडिकल हॉस्पिटल के 6th फ्लोर के आइसोलेटेड वार्ड की खिड़की से कोरोना संदिग्ध मरीज भागने का प्रयास करता है , लेकिन ज़मीन से काफी फासला होता है और भागने के प्रयास में उसकी नीचे गिरने से मौत हो जाती है। दरसअल 55 साल के कोरोना संदिग्ध मरीज को लीवर में तकलीफ के चलते पानीपत से कल्पना चावला हॉस्पिटल 1 अप्रैल को यहां भर्ती करवाया गया था जहाँ उसके ब्लड सैंपल भी लिए गए थे , लेकिन 4 बजे वो सुबह भागने का प्रयास करता है और उस दौरान गिरने से मौत हो जाती है।

वहीं परिजनों का कहना जिन नर्स या डॉक्टर्स की इस दौरान डयूटी थी और उनकी लापरवाही की वजह से उनके खिलाफ कार्रवाई भी होनी चाहिए।

इस हादसे के होने के बाद सुबह 4 बजे सभी डॉक्टर्स की टीम मौके पर पहुंच गई थी, और फायर ब्रिगेड और डॉक्टर्स की मदद से शव को सीढ़ियों के सहारे शैड से नीचे उतारा गया। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया गया है। पुलिस ने भी मौके पर पहुंचकर परिजनों से पूछताछ करके मामले की जांच शुरू कर दी है।

बहराल प्रशासन लगातार लोगों से यही अपील कर रहा है कि पैनिक ना हों ताकि इस तरह के मामले सामने ना आएं वहीं इस हादसे के बाद हॉस्पिटल प्रबंधन पर भी सवाल उठते हैं कि क्या रात के समय ड्यूटी देने वाले मेडिकल स्टाफ की कोई ज़िम्मेदारी नहीं बनती कि हर 20- 25 मिनट में जाकर किसी भी मरीज के वार्ड में उनका हाल चाल लिया जाना चाहिए ।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दिनदहाड़े मां-बेटे को घर में घुसकर गोलियों से भूना, मां की मौत, बेटा गंभीर

  Pardeep Dhankar, Yuva Haryana, Bahadurgarh बहादुë…