लोकसभा चुनाव में हुई हार के बाद पहली बार दीपेंद्र हुड्डा ने बुलाई कार्यकर्ता सम्मेलन बैठक, कई कार्यकर्ता और विधायक रहे मौजूद

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष
Deepak Khokhar, Yuva Haryana
Rohtak, 16 June, 2019
लोकसभा चुनाव में रोहतक से हुई हार के बार पूर्व सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने पहली बार कार्यकर्ता सम्मेलन बैठक बुलाई। इस सम्मेलन में 9 विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ता और 6 विधायक मौजूद रहे।
दीपेंद्र ने हरियाणा के सीएम और सभी भाजपा मंत्रियों पर प्रहार करते हुए कहा कि वे घमंड के घोड़े पर सवार हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने प्रदेश के भाईचारे को नुकसान पहुंचाया है।
इस मौके पर दीपेंद्र हुड्डा ने अपनी हार के कई कारण भी गिनवाए। उन्होंने कहा कि करीबन पांच सालों से ये चक्रव्यूह रचा जा रहा था। भाजपा ने साम-दाम-दंड-भेद अपनाकर सत्ता का दुरूपयोग किया है। पूर्व सांसद ने खुद भी हार की जिम्मेदारी ली और कहा कि 3 हफ्ते तक उन्होंने अपनी हार पर आत्ममंथन किया है और अब कांग्रेस पार्टी को भी ऊपर से नीचे तक आत्ममंथन करना होगा।
दीपेंद्र ने कहा कि हार से निराशा जायज है, लेकिन हताशा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने इस दौरान कार्यकर्ताओं से सुझाव भी मांगे, वे सुझावों के आधार पर आने वाले दिनों में रणनीति बनाएंगे। दीपेंद्र ने कहा कि वे असत्य की राजनीति के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ेंगे और उन्हें सभी को सच की की लड़ाई लड़नी होगी।
दीपेंद्र हुड्डा ने मंत्री मनीष ग्रोवर को चुनौती देते हुए कहा कि रोहतकवासियों के दिल से निकालकर दिखाएं, सांसद के तौर पर 14 साल तक लोगों के दिलों में घर बनाया है। बता दें कि मनीष ग्रोवर ने हुड्डा परिवार से चंडीगढ़ का एमएलए फ्लैट खाली कराने की बात कही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *