विभाग ने पांच कर्मचारियों को किया सस्पेंड, छात्रवृति योजना में कर रहे थे घपला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana
Chandigarh, 6 April, 2019

अनूसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों के लिए शुरू की गई पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना में करोड़ों रुपए का घोटाला सामने आया है और इस घोटाले के तार देश के विभिन्न राज्यों से जुड़े होने की आशंका है।

बदा दें कि अनुसूचित जाति एवं पिछड़े वर्ग कल्याण विभाग के रैकेट ने छात्र- छात्राओं के आधार नंबर बदलकर छात्रवृत्ति घोटाले को अंजाम दिया। सोनीपत जिले के 352 छात्र- छात्राओं के लिए स्वीकृत साढ़े तीन करोड़ रुपए का छात्रवृत्ति घोटाला सामने आया है।

चार सदस्यीय जांच कमेटी की रिपोर्ट के बाद विभाग के महानिदेशक ने पांच कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है और दो अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

आधारकार्ड को पारदर्शिता का बड़ा उदाहरण माना जाता है, लेकिन इसका दुरुपयोग सामने आने के बाद देश में नई बहस छिड़ने के आसार बन गए हैं।

विभाग के डाटा एंट्री ऑपरेटर मुख्यालय कुलजीत सिंह, लिपिक संजीव कुमार, सहायक रामधारी, बिलेंद्र सिंह, और अकाउंटेंट क्लर्क सुरेंद्र कुमार को निलंबित करने के आदेश जारी कर दिए गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *