सरकार की सख्ती और अभियानों के बावजूद भी धरती का सीना जला रहे किसान

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Suman Kashyap, Yuva

Haryana, 13-05-2018

प्रदेश में किसानों द्वारा फसल के अवशेषों को जलाने के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। धान का सीजन नजदीक आ रहा है और किसान जल्दबाजी में फसल के अवशेषों को जलाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

अब इसे किसानों में जागरूकता की कमी कहा जाए या फिर उनकी मजबूरी, लेकिन किसान फाने यानि फसल के अवशेष जलाने से पिछे नहीं हट रहे हैं।

पर्यावरण विभाग की सख्ती और कृषि अभियानों की जागरूकता के बावजूद भी अभी तक 734 किसानों को फसल अवशेष जलाते पकड़ा जा चुका है।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल और सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर किसानों को फसल अवशेषों को  जलाने से रोकने के लिए पर्यावरण और कृषि विभाग ने पूरी ताकत लगा दी, लेकिन इसके बावजूद भी नतीजे संतोषजनक नहीं है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दोषी किसानों पर करीब 6 हजार रूपये जुर्माना लगा दिया है और अनाकानी करने वाले किसानों पर केस दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *