ओलंपिक-एशियाई खेलों के पदक विजेताओं के लिए सरकार का बड़ा एलान, गांवों के विकास पर खर्च होंगे 5 करोड़

Breaking Uncategorized खेल चर्चा में देश बड़ी ख़बरें युवा युवा चैम्पियन सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

भिवानी-महेंद्रगढ़ के सांसद धर्मबीर की ओर से ओलंपिक पदक विजेता अमित पंघाल के गांव के विकास की मांग उठाए जाने के एक दिन बाद सरकार ने एक महत्वपूर्ण घोषणा की है।

ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि एशियाड व ओलंपिक खेलों के पदक विजेता खिलाडि़यों के गांवों को दीनबंधु छोटूराम ग्राम उदय योजना से जोड़ा जाएगा जिससे पांच करोड़ रुपए तक की धनराशि से गांव का विकास होगा।

यह महत्वपूर्ण घोषणा उन्होंने झज्जर में पत्रकारों से रूबरू होते हुए भिवानी-महेंद्रगढ़ के सांसद धर्मबीर सिंह के पूर्ववर्ती सरकार की खेल नीति को लेकर दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए की।

ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री ने कहा कि सांसद धर्मबीर सिंह को कई दलों में काम करने का तजुर्बा रहा है अगर उनके मन में हरियाणा के विकास से जुड़ी किसी भी योजना या कार्यक्रम को लेकर विचार है तो वे उसकी जानकारी निसंकोच उनके साथ सांझा कर सकते हैं। पिछली सरकारों की तुलना में हर कार्य को बेहतर करना भाजपा सरकार का प्रमुख एजेंडा है। पदक विजेता खिलाडि़यों के गांव का विकास करने में केवल स्वर्ण पदक की बाध्यता नहीं है बल्कि स्वर्ण पदक लाने वाले खिलाडि़यों के साथ-साथ रजत व कांस्य पदक विजेताओं के गांव भी इस योजना में शामिल किए जाएंगे।

धनखड़ ने कहा कि खेल व खिलाडि़यों को प्रोत्साहन के लिए हरियाणा सरकार की ओर से युवा, जूनियर व सब जूनियर खिलाडि़यों को भी प्रोत्साहन के लिए बड़े कदम उठाए गये है। उन्होंने हाल में लाडपुर गांव में जिला स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता के दौरान नवोदित खेल प्रतिभाओं की ओर से उनके समक्ष रखी गई मांग को मजबूती के साथ सरकार में पैरवी करते हुए मंजूर कराया। अब युवा, जूनियर, सब जूनियर प्रतियोगिता के खिलाड़यिं के लिए भी नकद पुरस्कार राशि आरंभ की गई है तथा मुख्य खेलों के ईनामों का एक तिहाई जूनियर व सब जूनियर खिलाडि़यों को भी मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *