लॉक डाउन और कर्फ्यू में क्या होता है अंतर, देखिये पूरी जानकारी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana, Chandigarh

कोरोना वायरस की वजह से लगभग पूरा भारत लॉकडाउन किया गया है। कोरोना वायरस की वजह से ही इटली, स्पेन और फ्रांस जैसे देशों में भी लॉकडाउन कर दिया गया है। चीन ने भी वुहान शहर से लॉकडाउन की शुरुआत की थी, इससे कोरोना को रोकने में काफी हद तक मदद मिली। आपको बता दें कि ये चीन का  वही शहर है जहां से कोरोना वायरस की शुरुआत हुई। 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू की सफलता के बाद से, देश के कई राज्यों ने पूरे शहर में लॉकडाउन कर दिया है।

क्या आप लॉकडाउन और कर्फ्यू में अंतर जानते हैं?

कर्फ्यू

कर्फ्यू एक सख्त जनादेश है जो लोगों को सड़कों से दूर रखता है। यह राज्य के नियमों के अनुसार और आपातकालीन स्थितियों में घोषित किया जाता है। इसके दौरान लोग निर्धारित घंटों के लिए घर के अंदर रहने पर मजबूर होते हैं। कर्फ्यू का अपालन करने पर जुर्माना या गिरफ्तारी भी हो सकती है।

जनता कर्फ्यू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कहने पर 22 मार्च, रविवार को किया गया जनता कर्फ्यू वास्तविक कर्फ्यू से काफी अलग था। जनता कर्फ्यू खुद नागरिकों द्वारा लगाया गया कर्फ्यू था। ऐसी स्थिति के दौरान, भले ही सभी को सार्वजनिक स्थानों पर या बाहर न निकलने की सलाह दी गई थी, लेकिन इसका अपालन करने पर कोई दंड नहीं था।

लॉकडाउन

इसका मतलब है लोगों को घर छोड़ने से रोकने के लिए एक बड़ा कदम उठाना है। आपको घर छोड़ने या फिर सफर करने के लिए प्रमाण की ज़रूरत पड़ती है। लॉकडाउन आपको एक ही जगह पर रहने के लिए मजबूर करता है, और आप एक जगह से बाहर या दूसरी जगह पर प्रवेश नहीं कर सकते। हालांकि, एक लॉकडाउन के दौरान खाने-पीने, दवाइयां या ऐसे ही ज़रूरत के सामान पर रोक नहीं लगती।

लॉकडाउन के दौरान आपको किराने का सामान लेने, डॉक्टर के पास जाने या टहलने जाने जैसी सभी आवश्यक गतिविधियां करने की अनुमति दी जाती है, बशर्ते आप लोगों से दूरी का पालन करें। आपातकालीन सेवाओं में काम करने वाले लोग प्रतिबंधों में शामिल नहीं हैं। बेहतर है कि अपने स्थानीय अधिकारियों द्वारा जारी नियमों का पालन करें। ग़ैर-आवश्यक स्थानों को बंद किया जा सकता है जिसमें स्कूल, कॉलेज, व्यवसाय शामिल हैं। यहां तक कि परिवहन पर भी रोक लग सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *