सांड के पेट से सोना निकालना हुआ मुश्किल, अब उठाया जाएगा ये कदम

अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

04 Nov, 2019

हरियाणा में चार तोला सोना निगलने वाले सांड की पिछले 14 दिनों से परिवार की तरफ से खुब खातिरदारी की जा रही है लेकिन परिवार को अब तक इसमें कामयाबी नहीं मिली हैं। वहीं पशु चिकित्सक का कहना है कि सांड को हरा चारा और गुड़ खिलाने से गोबर के साथ गहने सांड के पेट से बाहर आ जाएंगे, लेकिन अभी तक ऐसा कुछ नहीं हुआ है वहीं पशु विभाग के डिप्टी डायरेक्टर सुखविंद्र चौहान का कहना है कि सांड के पेट से सोने का बाहर आना नामुमकिन है। उन्होंने बताया कि पशु के पेट के चार भाग होते हैं। यदि सांड ने सोने के आभूषण निगल लिए हैं तो वह उसके पेट के दूसरे और तीसरे हिस्से में हो सकते हैं। ऐसे में उनके बाहर आने की उम्मीद कम ही है। यह भी आशंका है कि सांड ने गहने निगलने के बाद कहीं पर जुगाली की हो और गहने बाहर आ गए हों।
सांड को गोशाला में छोडऩे की सोच रहा जनक राज का परिवार…..
जनक राज के परिवार ने कुछ दिन पहले निर्णय लिया कि यदि सांड के पेट से आभूषण बाहर नहीं आते हैं, तो वे उसे गोशाला में छोड़कर आएंगे। जनक राज को आशंका है कि यदि सांड को खुले में छोड़ दिया जाए, तो सोने की लालच में कोई भी सांड की हत्या कर सकता है। इसलिए जनक राज के परिवार ने सांड को गोशाला में छोड़ने का फैसला लिया। वहीं परिजनों और पड़ोसियों की सलाह पर जनक राज सांड की खातिरदारी तो कर रहा है, लेकिन अब उसे भी उम्मीद नहीं है कि गहने वापिस मिलेंगे।
आपको बता दें कि मामला कालांवली निवासी जनक राज का है जिसमें जनक राज के परिवारिक सदस्य 19 अक्टूबर को एक शादी समारोह में गए हुए थे। जनक राज की पत्नी और पुत्रवधू सोने के गहने उतारकर रसोई में एक कटोरी में रखकर सो गई थी। इसी दौरान रसोई में सब्जी के छिलकों के नीचे सोने के गहने वाली कटोरी छिप गई। बाद में जनक राज की बुजुर्ग मां ने सब्जी के छिलकों व अन्य बची सब्जियों व फल को गली में पशुओं के लिए बनाई गई जगह पर फेंक दिया था। कुछ देर बाद जनक राज की मां गली में खड़ी थीं तो उनकी नजर सोने के चमकते एक टॉप्स पर पड़ी तो उन्होंने उसे उठाकर परिजनों को दिखाया। इसके बाद उन्हें याद आया कि ऐसे ही टॉप्स उनके भी थे, जिसे उतार कर रसोई में रखे थे। रसोई में जाकर देखा तो गहने वहां नहीं थे। गहने कहां गए इसका पता करने के लिए घर में लगे सीसीटीवी की जांच की गई तो पता चला कि गहने सब्जियों के कचरे के साथ मां ने बाहर फेंक दिया है।

जिसके बाद बाहर लगे सीसीटीवी की जांच की तो उसमें गहने फेंकने के बाद एक पूंछ कटे सांड को देखा गया, जोकि सब्जियों को खा रहा है। अंदाजा लगाया गया कि इसी ने सब्जियों के साथ गहने को भी निगल लिया होगा। इसके बाद परिजनों ने उक्त सांड़ की तलाश शुरू की। आखिरकार तीन घंटे की तलाश के बाद एक गली में पूंछ कटा सांड बैठा मिल गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *