Home Breaking जींद के पिछड़ेपन के लिए हुड्डा, रणदीप व मनोहर बराबर के जिम्मेदार -दिग्विजय चौटाला

जींद के पिछड़ेपन के लिए हुड्डा, रणदीप व मनोहर बराबर के जिम्मेदार -दिग्विजय चौटाला

0
0Shares

Yuva Harayana,

Jind, 23 Jan, 2019

 जींद के पिछड़ेपन के लिए कांग्रेसी प्रत्याशी रणदीप सिह सूरजेवाला, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और प्रदेश में सत्तारुढ़ भाजपा सरकार एवं इसके मुख्यिा मनोहर लाल को बराबर का जिम्मेदार ठहराते हुए जेजेपी प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला ने कहा कि जींद के इस उपचुनाव में क्षेत्र की जनता इन्हें जींद के प्रति अपनाए गए उपेक्षात्मक रवैये की सजा अवश्य देगी।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार से पूर्व लगातार दस वर्षों तक पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार सत्तारुढ़ थी। लेकिन अपने उस कार्यकाल के दौरान भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने जींद के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए कुछ भी नहीं किया। यदि उस समय उन्होंने जींद के विकास पर रंच मात्र भी ध्यान दिया होता तो आज जींद इस बदहाल अवस्था में नहीं होता।
यही नहीं कांग्रेस प्रत्याशी भी तत्कालीन हुड्डा सरकार में कैबिनेट मंत्री के रुप में कार्यरत रहे लेकिन उन्होंने भी अपने कार्यकाल के दौरान जींद के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए कोई उपाय नहीं किया। आज कैथल का विधायक रहने के बावजूद जींद से कांग्रेस का टिकट मिलने के पश्चात वे जींद में आ कर जींद के लोगों से झूठी हमदर्दी दिखला रहे हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि दरअसल जींद बदलेंगगे जिन्दगी बदलेंगे का नारा देने वाले सूरजेवाला यहां अपनी जिन्दगी बदलने की उम्मीद से आए हुए हैं।
उन्होंने कहा कि कैथल की जनता ऐसे लोगों के बहकावे में आने वाली नहीं है जो जींद की इस बदहाल स्थिति के लिए स्वयं जिम्मेदार हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि आप एक मौका अपने इस युवा साथी को दे कर देखें। हम जींद को विकास की बुलंदियों पर पहुंचाने का काम करेंगे। हम आप की आवाज बन कर चंडीगढ़ को इस बात के लिए मजबूर कर देंगे कि वह आप को आप का हक प्रदान करे।
दिग्विजय चौटाला ने कहा कि प्रदेश में सत्तारुढ़ भाजपा सरकार ने भी हुड्डा सरकार की नीति को आगे बढ़ाते हुए जींद के प्रति उपेक्षात्मक रवैया अपनाए रखा। इस प्रकार से भाजपा के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान भी विकास की बाट जोह रही जींद की जनता प्रदेश सरकार के उपेक्षात्मक रवैये का शिकार बनी रही। मनोहर सरकार के रवैये को देख कर तो ऐसा प्रतीत होता है कि भाजपा जींद को हरियाणा का जिला ही नहीं मानती।
जींद से राजस्व वसूलने के मामले में तो प्रदेश सरकार किसी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरतती है। लेकिन जब यहां की जनता को सड़क, सीवर, बिजली, पानी एवं शिक्षा तथा स्वास्थ्य जैसी मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने का समय आता है तो वह अपने हाथ पीछे खींच लेती है।
पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने अपने कार्यकाल के दौरान रोहतक में चमचमाती सड़कों और फ्लाईओवरों का जाल तो बिछा दिया लेकिन साथ लगते जींद में रेलवे फाटकों पर लगने वाले जाम से स्थानीय जनता को मुक्ति दिलवाने के लिए उन्होंने कुछ भी नहीं किया। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि यदि उन्हें क्षेत्र की जनता अपना प्रतिनिध चुन कर हरियाणा विधानसभा में भेजती है तो वे क्षेत्र के विकास के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाएंगे और जींद की जनता को जाम से मुक्ति दिलवाने के लिए आरओबी और आरयूबी का निर्माण करवाएंगे।
उन्होंने कहा कि जींद की जनता इन सारे नेताओं की असलियत से पहले ही परिचित हो चुकी हैै। उन्होंने जींद की जनता से आह्वान किया 28 जनवरी को कप-प्लेट के निशान का बटन दबा कर कांग्रेस एवं भाजपा जैसी जनविरोधी ताकतों को सबक सिखाने का कार्य करेंं।
Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In Breaking

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

प्रदेश की हर छोटी बड़ी खबरें पढ़ने के लिए देखिए Yuva Haryana Top News

Yuva Haryana Top News, 06 Aug. 2020 1. हरियाणा &…