तनाव के चलते नौंवी कक्षा की छात्रा ने की अपनी जीवनलीला समाप्त, जानिए पूरा मामला

अनहोनी हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Hayana

Naaranaund, 4 Oct, 2019

नारनौंद: नारनौंद मे तनाव के चलते अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली, तनाव हो तो बच्‍चे सही और गलत का फैसला कर पाने में कमजोर पड़ जाते हैं।  खेड़ लोहचब के आरोही स्कूल की नौवीं कक्षा की एक छात्रा ने हॉस्टल में फंदा लगा कर अपनी जान दे दी।आनन-फानन में छात्रा को फंदे से उतारकर अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का डाक्टरों के बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के हवाले कर दिया है।

भिवानी जिले के गांव चोरटापुर निवासी 14 वर्षीय कल्पना पुत्री सुरेश खेड़ी लोहचब के आरोही मॉडल सीनियर सेकंडरी स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ती थी। वह 28 सितंबर को अपने घर चोरटापुर चली गई थी। वीरवार को सुबह ही उसके चाचा रामफल उसको स्कूल में छोड़कर घर चले गए थे। छात्रा स्कूल में ही बने अपने हॉस्टल के कमरे में चली गई। कुछ ही देर के बाद एक अन्य छात्रा हॉस्टल में आई तो उसने देखा कि कमरा अंदर से बंद है और उसने कमरे को खोलना चाहा तो कमरा नहीं खुला।
काफी आवाज लगाने के बाद भी अंदर से कोई आवाज नहीं आई। तो उसने हॉस्टल की कुक व चौकीदार को इसकी सूचना दी। कुक व चौकीदार ने कमरे का दरवाजा तोड़ा तो देखा कि छात्रा कल्पना चुनी का फंदा बनाकर पंखें पर लटकी हुई थी। उन्होंने इसकी सूचना स्कूल के अध्यापकों व स्टाफ को दी। तुरंत ही स्कूल की प्रिंसिपल व अध्यापक छात्रा को मिर्चपुर के सरकारी अस्पताल में ले गए। जहां से उसको नारनौंद रेफर कर दिया। नारनौंद के सरकारी अस्पताल में चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए हांसी के सरकारी अस्पताल में भेज दिया। पुलिस ने मृतका के चाचा रामफल के बयान पर इत्फाकिया कार्रवाई करते हुए जांच आरंभ कर दी है।
स्कूल की प्राचार्या उपासना दुहन ने बताया कि छात्रा वीरवार को ही अपने घर से स्कूल के हॉस्टल में आई थी और आने के कुछ देर बाद ही उसने आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना पुलिस व उसके परिजनों को दे दी है। हॉस्टल में रहने वाली अन्य छात्राओं की काउंसिलिंग की गई है। स्कूली छात्राओं में किसी भी प्रकार की कोई भय का माहौल नहीं है
थाना प्रभारी रामफल ने बताया कि छात्रा के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों के हवाले कर दिया है। पुलिस मामले की गहनता से जांच करने में जुटी हुई है।
मृतका के चाचा रामफल ने बताया कि कल्पना को आज ही स्कूल में छोड़कर गया था। दो घंटे के बाद ही सूचना मिली कि उसने आत्महत्या कर ली है। घर से वह खुश होकर स्कूल में गई थी। घर में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं थी। आत्महत्या करने का कारण उसकी मानसिक परेशानी हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *