आओ मिलकर करें चौधरी देवी लाल के सपनो को साकार: दुष्यंत

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Jind, 24 Jan, 2019

जींद के इस उपचुनाव में जींद का विकास ही हमारा मुख्य मुद्दा है और यही हमारा लक्ष्य भी है। कुछ जनविरोधी ताकतें हमें इस मुद्दे से भटकाने की कोशिश कर रही हैं। वर्तमान राजनैतिक परिस्थितियों को देखते हुए आज यह अनिवार्य हो गया है कि पिछले 52 वर्षों से राजनैतिक उपेक्षा का दंश झेलने को मजबूर जींदवासियों के जीवन को खुशहाल बनाने के लिए जींद से लगाव रखने वाले सभी लेाग एक जुट हो कर जनविरोधी ताकतों को पराजित करने का काम करें।

चौधरी देवी लाल को जींद से काफी लगाव था और वे जींद को एक विकसित और आधुनिक जिला बनाना चाहते थे। जननायक जनता पार्टी ने चौधरी देवी लाल के इस सपने को साकार करने का बीड़ा उठाया हुआ है। मै जींद के विकास के इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए इनेलो के सभी भाईयों सहित जींद से प्यार करने वाले सभी लोगों से यह अपील करता हूं कि वे चौधरी देवीलाल के सपने को पूरा करने के लिए हमारा सहयोग करें। यह सभी बातें हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला ने उस समय कहीं जब वे अपने जनसंपर्क कार्यक्रम के अन्तर्गत जींव विधानसभा के विभिन्न गांवों में आयोजित जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मैं विशेष कर इनेलो के अपने भाईयों से यह अनुरोध करुंगा कि कुछ षडय़ंत्रकारियों को छोड़ कर आप सभी लोग मेरे अपने हैं और मै आप लोगों से अत्यधिक प्यार करता हूं। मै आप से यह अनुरोध एवं अपेक्षा करता हूं कि आप जींद के विकास के लिए किए जा रहे इस महायज्ञ में अपनी आहुति अवश्य डालेंगे और जींद के चहुंमुखी विकास के लिए दिग्विजय सिंह चौटाला को विजयी बना कर चौधरी देवी लाल के सपनो को साकार करने का कार्य करेंगे।

मै यह अच्छी तरह से जानता हूं और महसूस करता हूं कि कुछ चन्द लोगों को छोड़ कर आप इनेलो के सभी भाई भी मुझसे बहुत प्यार करते हैं। लेकिन आप के समक्ष कुछ ऐसी मजबूरियां हैं जिसके चलते आप अपने इस लगाव का प्रदर्शन नहीं कर पाते। अब समय आ गया है कि हम इन मजबूरियों को दरकिनार कर राजनैतिक बंदिशों की बेडिय़ों को तोडऩे का कार्य करें और सारे गिले शिकवे भूलकर जींद के विकास के इस लक्ष्य को हासिल करने सहित चौधरी देवी लाल की सोच को साकार करने के लिए एकजुट हो जाएं। हरियाणा के निर्माता जननायक चौधरी देवी लाल के लिए इससे बड़ी श्रद्धांजलि कोई दूसरी नहीं हो सकती। अपने संबोधन का समापन उन्होंने जींद उपचुनाव के लिए जेजेपी के नारे जय जींद-जय हिन्द के साथ किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *