दुष्यंत ने सांसद निधि के रूके कार्यों का मांगा जवाब, 25 अधिकारियों को नोटिस जारी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva haryana
Hisar, 27 Nov, 2019

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला जब सांसद थे, उनके द्वारा आवंटित निधि पर कुंडली मारकर बैठने वाले 25 अधिकारियों को नोटिस जारी किया गया है। इन अधिकारियों में से एक हरियाणा प्रशासनिक सेवा के हैं। ये नोटिस तब जारी किए गएं जब दुष्यंत चौटाला प्रदेश के उप मुख्यमंत्री बन गए। इससे पहले हिसार में कभी इतनी बड़ी संख्या में अधिकारियों को सांसद निधि को लेकर नोटिस जारी नहीं हुए हैं। दुष्यंत चौटाला ने हिसार का सांसद रहते हुए अपनी सांसद निधि से कई काम करवाए थे।
इनमें से कई काम ऐसे हैं जो आज तक पूरे नहीं हुए। अधिकारियों ने दुष्यंत चौटाला के उपमुख्यमंत्री बनते ही उनके द्वारा स्वीकृत कामों पर तेजी दिखानी शुरू कर दी। और आनन-फानन में नोटिस जारी कर कामों में तेजी लाने व अब तक आवंटित निधि का उपयोग न करने पर जवाब मांगा है।
करीब ढाई करोड़ के काम ऐसे हैं जो सांसद का कार्यकाल समाप्त होने के बाद भी बाकी हैं। जिम का सामान खरीदने जैसे कई काम ऐसे हैं जो महज एक सप्ताह में पूरे हो सकते हैं, लेकिन आज तक इन पर संज्ञान नहीं लिया गया। सांसद को अपने संसदीय क्षेत्र में विकास करवाने के लिए पांच साल में 25 करोड़ की निधि दी जाती है।
उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने एडीसी को तलब कर उनके सांसद रहते जारी की गई निधि ब्योरा मांगा। वस्तुस्थिति का पता चलते ही उन्होंने एडीसी को फटकार लगाते हुए उनके कामों को जल्द से जल्द पूरा करवाने को कहा। वहीं निगम कमिश्नर सहित 25 अधिकारियों को नोटिस जारी किए हैं। दुष्यंत चौटाला के सांसद रहते हुए उनके द्वारा जारी की गई ग्रांट पर काम शुरू करवाने के लिए नोटिस दिए गए हैं। कुछ काम 2018 के हैं और कुछ उससे पहले के हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *