हिसार-चंडीगढ़ के रेलगाड़ी चलाने की मांग दुष्यंत ने फिर लोकसभा में फिर उठाई सरकार जल्द पूरे करवाए हरियाणा के लंबित रेलवे प्रोजेक्ट- दुष्यंत

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 4Feb, 2019

हिसार को प्रदेश की राजधानी चंडीगढ़ से रेलवे मार्ग से जोडऩे की मांग एक बार फिर लोकसभा में उठी। सांसद दुष्यंत चौटाला ने सोमवार को इस मुद्दे को को उठाते हुए कहा कि हिसार व चंडीगढ़ के बीच लोगों के आवागमन के लिए कोई रेलगाड़ी नहीं है और चंडीगढ़ तक जाने के लिए केवल सड़क मार्ग ही एक विकल्प है। उन्होंने केंद्र सरकार से हिसार व चंडीगढ़ के बीच रेलवे सेवा शुरू करने की मांग की। इसके अलावा दुष्यंत ने हिसार लोकसभा क्षेत्र सहित प्रदेश में मंजूरशुदा लंबित प्रोजेक्ट को भी पूरा करने की मांग की।

युवा सांसद दुष्यंत ने लोकसभा में नियम 377 के तहत उपरोक्त मु्दों को उठाया। उन्होंने लोकसभा में प्रदेश में कई लंबित पड़ी रेलवे परियोजनाओं की मांगों के बारे में चिंता जाहिर करते हिसार व प्रदेश से संबंधित समस्याओं और मांगों के बारे में केंद्र सरकार को अवगत करवाया है। उन्होंने कहा कि अनेक प्रोजेक्ट ऐसे हैं जिनका बजट में जिक्र किया और कुछ प्रोजेक्ट के लिए बजट का भी प्रावधान रखा परन्तु कई बरस बीत जाने के बाद भी इन प्रोजेक्ट पर आज तक काम शुरू नहीं हो पाया और रेलवे से संबंधित कई मांगे, प्रोजेक्ट्स लंबित है। सांसद दुष्यंत चौटाला इन लंबित मांगों और प्रोजेक्ट पर काम शुरू करने को लेकर न केवल लोकसभा के पटल पर कई बार पहले भी उठा चुके हैं बल्कि केंद्रीय रेलमंत्री से भी मुलाकात कर उन्हें अवगत करवा चुके हैं। इन मांगों में प्रमुख रूप से हिसार-चंडीगढ़ के बीच रेलवे कनेक्टिविटी करना था।

आज सदन में युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने हिसार से चंडीगढ़ रेल सेवा जल्द शुरू करने की मांग करते हुए कहा कि बीकानेर मंडल का सबसे पुराना व महत्वपूर्ण स्टेशन हिसार है फिर भी यहां लम्बी दूरी की ट्रेनों की सुविधाओं का अभाव है। इतनी ही नहीं हिसार जिला औद्योगिक क्षेत्र होने के साथ-साथ हरियाणा का एक प्रमुख शिक्षा का केंद्र है, लेकिन इसके बावजूद एक भी ट्रेन इस प्रमुख जिला हिसार से हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ नहीं जाती जिसके कारण हिसार और यहां के आसपास के लोगों को चंडीगढ़ जाने के लिए सड़क मार्ग पर निर्भर रहना पड़ता है।

सांसद दुष्यंत चौटाला हिसार-चंडीगढ़ के बीच कनेक्टिविटी के लिए प्रथम रूट हिसार-जाखल, धूरी, राजपुरा व पटियाला-चंडीगढ़ तथा दूसरा रूट हिसार-जाखल, नरवाना, कुरूक्षेत्र और चंडीगढ़ के बीच सुझाया था। इसके अलावा वैकल्पिक व्यवस्था होने तक भिवानी चंडीगढ़ के बीच चलने वाली एकता एक्सप्रेस को हिसार तक बढ़ाने की मांग करते रहे हैं।
सदन में सांसद दुष्यंत ने अनुरोध करते हुए कहा कि हरियाणा की सभी लंबित रेलवे परियोजनाओं पर गौर किया जाए और उन्हें तेजी के साथ जल्द से जल्द पूरा किया जाए ताकि हिसार के साथ-साथ प्रदेशवासी इसका लाभ ले सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *