सरकार जनता को बताए कि यह बजट केवल 4 महीनों का है और लोकसभा चुनाव के बाद अगली सरकार इस पर विचार करेगी- दुष्यंत चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Chandigarh, 1 Feb, 2019

आज केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल द्वारा वित्त वर्ष 2019-2020 का बजट पेश किया गया है। जिसको लेकर सासंद दुष्यंत चौटाला ने प्रतिक्रिया दी है, जिसमें उन्होंने सरकार को कहा है कि वह देश की जनता को बताए कि यह बजट केवल 4 महीनों का है और लोकसभा चुनाव के बाद अगली सरकार इस पर विचार करेगी।

दुष्यंत चौटाला ने बजट को जुमलों का पिटारा बताते हुए कहा कि 2014 में सरकार ने जो-जो वादे किए, उन्हीं को बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया गया है। उन्होंने सवाल उठाया कि सरकार ने किसानों की पेंशन के अलावा एमएसपी पर कानून क्यों नहीं बनाया? उन्होंने कहा कि एमएससी किसानों की रीढ की हड्डी है, उसपर काम करना जरूरी है।

दुष्यंत ने कहा कि सरकार ने टैक्स में छूट से पहले ही राहत दे दी थी, क्या इस सरकार ने 5 लाख की आय से नीचे वाले को टैक्स फ्री किया है ?इसके साथ ही दुष्यंत ने युवाओं के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि बजट में युवाओं के रोगजार पर ध्यान नहीं दिया गया, सिर्फ सरकार ने ये बोल दिया कि जीडीपी के सुधार से नए रोजगार के साधन बढ़ेंगे।

चौटाला ने कहा कि धरातल पर सरकार युवाओं के रोजगार के लिए कुछ नहीं कर पाई, अंत में भाजपा सरकार यह कहने लग गई की पकोड़े बनाकर भी रोजगार स्थापित किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पूरे बजट में खिलाड़ियों के लिए कोई भी विशेष प्रावधान नहीं किया गया।

सांसद दुष्यंत ने कहा कि बजट में नदियों और डेम को लेकर सरकार ने कोई ऐलान नहीं किया। सरकार सिर्फ गंगा की सफाई की ही बात कर रही है। गंगा-यमुना का क्या हाल है ये सबके सामने है।

उन्होंने कहा कि सरकार जनता के टैक्स (आपका टेक्स) को आमजन की सेवा के बजाया अपने विज्ञान, प्रचार में खर्च कर रही है। उतना ही नहीं CAG रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के टोटल पैसाै में से उसका 51 प्रतिशत विज्ञापन में खर्च किया गया है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *