26.8 C
Haryana
Wednesday, September 23, 2020

मनोहर सरकार के हवाई जहाज के सपने, गरीब की सवारी को कर रहे बंद- दुष्यंत चौटाला

Must read

Haryana के इस गांव का बदला गया थाना क्षेत्र, सरकार ने दी मंजूरी

Yuva Haryana News Chandigarh, 22 September, 2020 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जनहित में निर्णय लेते हुए गांव रतौर के क्षेत्र को पुलिस थाना रायपुररानी...

देशभर में सबसे रोमांटिक शहर है लुधियाना, ट्विटर के कन्वर्सेशन रिप्ले 2019 में हुआ खुलासा  

Yuva Haryana News Chandigarh , 22 September , 2020 Ludhiana, Most Romantic City of India ये हम नहीं कह रहे ये खुलासा हुआ है ट्विटर के...

Haryana में आज कोरोना के 1795 मामले आए, हर जिले का हाल जानें

Yuva Haryana News Chandigarh, 22 September, 2020 हरियाणा के लोगों के लिए राहत वाली बाती है कि अब कोरोना मरीजों की संख्या घटने लगी है। कुछ...

Sahab Ram, Yuva Haryana
Chandigarh, 20 Oct, 2018

इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने पिछले पांच दिनों से रोडवेज कर्मचारियों की मांगो का समर्थन करते हुए सरकार के दावों की पोल खोलते हुए इस हड़ताल को सरकार की हठधर्मिता बताया है। युवा सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि सरकार को अपना अड़ियल रवैया छोड़कर प्रदेश की जनता की चिंता करते हुए कर्मचारियों की जायज मांगे मान लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार जब से प्रदेश में सत्तासीन हुई है तब से हर वर्ग को इसने तंग व परेशान रखा है। कर्मचारी पिछले काफी समय से परिवहन बेड़े में नई बसे शामिल करने की मांग सरकार से करते आ रहे है और परिवहन मंत्री सरकार की तरफ से लगातार उनको आश्वासन देते रहे। परन्तु धरातल पर सरकार की तरफ से इस सम्बंध में कोई सकारात्मक कदम नही उठाया गया बल्कि इसके विपरीत सरकार ने अब नोटिफिकेशन जारी करके 720 निजी बसे निजी ट्रांसपोर्टर से प्रति किलोमीटर के हिसाब से चलवाने का प्रयास कर रही है।

सरकार के द्वारा सैंकड़ो बसें रोडवेज को देने के दावे फेल हो चुके है। इससे कर्मचारियों में जबरदस्त रोष है क्यों कि सरकार की तरफ से रोजगार तो पहले ही नही दिए जा रहे रोडवेज बेड़े में निजी बसें शामिल किए जाने के इस नोटिफिकेशन के लागू होने के बाद तो रोडवेज में नई भर्ती के रास्ते भी बन्द हो जाएंगे। निजीकरण के खिलाफ सांसद चौटाला ने रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल को जायज ठहराते हुए कहा कि हरियाणा रोडवेज में किसी प्रकार का कोई घाटा नही है फिर भी सरकार निजी करण पर उतारू है तो जरूर इसके पीछे सरकार की मंशा इसके माध्यम से अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने की होगी।

पहली बार ऐसा हो रहा है कि रोडवेज कर्मचारी अपने हितो की बजाए प्रदेश के हितों की रक्षा के लिये हड़ताल किये हुए है । उन्होंने सरकार से अपनी दमनकारी नीति छोड़कर इस नोटीकेशन को तुरंत प्रभाव से वापिस लेने की मांग की है ताकि आमजन को इस हड़ताल से होने वाली दिक्कतों से छुटकारा मिल सके।

More articles

Latest article

Haryana के इस गांव का बदला गया थाना क्षेत्र, सरकार ने दी मंजूरी

Yuva Haryana News Chandigarh, 22 September, 2020 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जनहित में निर्णय लेते हुए गांव रतौर के क्षेत्र को पुलिस थाना रायपुररानी...

देशभर में सबसे रोमांटिक शहर है लुधियाना, ट्विटर के कन्वर्सेशन रिप्ले 2019 में हुआ खुलासा  

Yuva Haryana News Chandigarh , 22 September , 2020 Ludhiana, Most Romantic City of India ये हम नहीं कह रहे ये खुलासा हुआ है ट्विटर के...

Haryana में आज कोरोना के 1795 मामले आए, हर जिले का हाल जानें

Yuva Haryana News Chandigarh, 22 September, 2020 हरियाणा के लोगों के लिए राहत वाली बाती है कि अब कोरोना मरीजों की संख्या घटने लगी है। कुछ...

Deepika Padukone के बाद अब इस अभिनेत्री पर गिरी गाज, Drugs कनेक्शन में आया नाम 

Yuva Haryana News Chandigarh , 22 September , 2020 सुशांत सिंह राजपूत डेथ का राज अभी भी राज ही है। लेकिन इस केस से जुड़े कई ड्रग्स मामले...