केंद्रीय भाजपा सरकार के बजट को दुष्यंत चौटाला ने बताया हर वर्ग के लिए निराशाजनक

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 5 July, 2019

जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने केंद्र सरकार द्वारा पेश किए बजट को गरीब, किसान, मजदूर, युवा समेत तमाम वर्ग के लिए निराशाजनक बताया है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भाजपा सरकार को लोकसभा चुनाव में जनता ने भारी बहुमत के साथ एक बार फिर से सत्ता की कुर्सी सौंपी थी, लेकिन मोदी सरकार ने सबके हितों का ध्यान न रखते हुए इस बजट के जरिए केवल महंगाई की मार जनता पर मारी है।

उन्होंने कहा कि इस बजट के नकारात्मक संकेत उसी समय सामने आ गये थे जब वित्त मंती निर्मला सीतारमण द्वारा संसद में बजट पेश करते ही शेयर बाजार में भारी गिरावट आई। उन्होंने कहा कि एकदम से 400 अंक के करीब सेन्सेक्स के लुढ़कने से ये साबित होता है कि ये बजट उद्योगपतियों के लिए कितना नुकसानदायक रहा है। उन्होंने कहा कि बहुत से उद्योगों पर ज्यादा टैक्स लगाने से सीधे-सीधे उद्योगपतियों पर अतिरिक्त टैक्स की मार पड़ेगी और जिसकी वजह से आगामी समय में उद्योगों पर खासा नकरात्मक असर पड़ेगा।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस बजट के जरिए भाजपा सरकार युवाओं के लिए एक भी नई योजना नहीं लेकर आई है। उन्होंने कहा कि एक तो सरकार ने रोजगार के आंकड़े नहीं बताए और ऊपर से बड़े उद्योगों पर टैक्स बढ़ाने से निजी क्षेत्र में रोजगार को कम कर दिया। उन्होंने कहा कि जैसे बैंक से साल में एक करोड़ से ज्यादा निकालने पर दो प्रतिशत टैक्स लगा दिया गया है।

वहीं दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस बजट में किसानों के लिए भी कुछ खास नहीं था। उन्होंने कहा कि कृषि के लिए भाजपा सरकार ने अलग से बजट लाने का वादा किया गया था लेकिन नई वित्तमंत्री ने इसे गैरजरूरी बताते हुए इन्कार कर दिया। दुष्यंत ने कहा कि भाजपा सरकार की नीति और नियत साफ-साफ ये दर्शाती है कि वो केवल बातों से ही किसानों की आय दोगुनी करना चाहते है, न कि धरातल पर इसे उतारने के लिए किसानों का अलग से बजट पेश करना उचित समझा।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आम लोगों पर भी इस बजट की मार भाजपा सरकार ने मारी है। उन्होंने कहा कि पैट्रोल-डीजल पर 2-2 रुपए सेस लगाने से तुरंत तेल की कीमतों में उछाल आया है जिससे हर वर्ग के लोगों की जेब से वित्तमंत्री ने पैसा निकालाने का काम किया है। इसके अलावा सोना समेत कई अन्य वस्तुएं भी महंगी की है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार को आम जनता को राहत देते हुए महंगाई पर कंट्रोल करना था, लेकिन वस्तुओं की कीमत बढ़ा उलटा जनता पर ही महंगाई का अतिरिक्त बोझ डाल दिया।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस बजट से भाजपा ने देश को कर्जवान करते हुए हर भारतीय पर 28 हजार रूपये का कर्ज बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पांच साल में 37.5 लाख करोड़ रुपये विदेशी कर्ज लिया जबकि इससे पहले कुल 55 लाख करोड़ ही था।

इतना ही नहीं दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा की जनता ने सभी दस सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिए लेकिन बजट में कहीं भी राज्य का नाम तक नहीं लिया गया और न ही प्रदेश के लिए किसी प्रोजेक्ट का एलान किया गया। दुष्यंत ने कहा कि पहले से घोषित प्रोजेक्ट्स पर भी सरकार ने चुप्पी साधी रखी और उल्टा जो प्रोजेक्ट हरियाणा के लिए एलान हुआ था वो मनेठी एम्स भी रद्द हो चुका है। दुष्यंत ने कहा कि मोदी के नाम पर भाजपा ने हरियाणा के लोगों को केंद्र के पास गिरवी रखवा दिया है, अब ना कोई आवाज उठाने वाला बचा और  ना काम करवाने वाला।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *