बात प्रदेश के नौजवानों के रोजगार की है, तो उसके लिए चाहे बाल ठाकरे बनना पड़े या राज ठाकरे, बनूंगा – दुष्यंत चौटाला

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 10 July, 2019

प्रदेश में बेरोजगारी को जड़ से खत्म करने के लक्ष्य से आगे बढ़ रही जननायक जनता पार्टी ने अब बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए सरकार के खिलाफ जंग छेड़ दी है। जजपा ने अपनी ‘रोजगार मेरा अधिकार’ मुहिम को आगे बढ़ाते हुए आज से विधायकों और मंत्रियों के आवास की घेराबंदी करनी शुरू कर दी है।

चंडीगढ़ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के द्वारा जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने भाजपा सरकार को सीधे-सीधे चेतावनी देते हुए कहा कि प्रदेश के एक-एक बेरोजगार युवा को रोजगार नहीं मिलने तक जेजेपी चुप बैठने वाली नहीं है। इतना ही नहीं दुष्यंत चौटाला ने भाजपा सरकार को साफ-साफ शब्दों में कहा कि जेजेपी सरकार आने पार तब चलेगी फैक्ट्रियां, जब मिलेगी नौकरियां, इसके लिए चाहे उन्हें बाल ठाकरे बनना पड़े या राज ठाकरे।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि युवाओं को रोजगार दिलाने को लेकर आज जजपा ने रोहतक से मंत्री मनीष ग्रोवर के आवास का घेराव करके युवा विरोधी भाजपा सरकार के खिलाफ जंग का बिगुल फूंक दिया है, अब प्रदेशभर में इसी तरह युवाओं को साथ लेकर विधायकों और मंत्रियों के आवास घेराव का सिलसिला जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि इस दौरान पार्टी कार्यकर्ता जगह-जगह प्रदर्शन करके बेरोजगारी, बिगड़ती कानून व्यवस्था, बढ़ रही महंगाई समेत कई मुद्दों को लेकर ज्ञापन सौंपेंगी और उनसे गरीब, युवा, किसान, व्यापारी समेत तमाम वर्गों का हक मांगेगी।

दुष्यंत ने कहा कि अगर धरना-प्रदर्शन के बाद भी सरकार ने जजपा द्वारा सौंपे गए ज्ञापन को गंभीरता से नहीं लिया तो जेजेपी चुप बैठने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि जजपा मंत्रियों और विधायकों के आवास घेराव के बाद निजी कंपनियों, फैक्ट्रियों के खिलाफ हल्ला बोलेगी और उनसे प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने की मांग करेगी। दुष्यंत ने भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वहां भी प्रदेश के युवाओं को अपना हक नहीं मिला तो फैक्ट्रियां भी तब चलेगी जब सरकार युवाओं को नौकरियां देने की तरफ कोई उचित कदम उठाएगी।

दुष्यंत ने प्रदेश के युवाओं का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आज भाजपा सरकार बड़ी-बड़ी प्राइवेट कंपनियों के साथ मिलकर बाहरी लोगों को रोजगार देने में ज्यादा तवज्जो देती हुई दिखाई दे रही है जबकि हरियाणा के युवा नौकरियों के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे है। उन्होंने कहा कि राजधानी दिल्ली से लगते हरियाणा के गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पानीपत जिलों में बड़ी-बड़ी निजी कंपनियां है लेकिन उनमें प्रदेश के युवाओं को नौकरी देने में भेदभाव किया जा रहा है।

दुष्यंत ने कहा कि इन कंपनियों को पैसे कमाने के लिए जमीन, संसाधन सारे हरियाणा के चाहिए लेकिन जब बात प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने की आती है तो बीजेपी सरकार और निजी कंपनियां चुप्प बैठ जाती है। दुष्यंत ने कहा कि सरकार प्राइवेट क्षेत्र में 75 प्रतिशत हरियाणवी युवाओं का रोजगार कोटा निर्धारित न करके प्रदेश के युवाओं का हक दाबे बैठी है जो कि सरासर हरियाणवी युवाओं के साथ अन्याय हैं।

दुष्यंत चौटाला ने प्रदेश में बढ़ी बेरोजगारी को लेकर भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि सक्षम युवाओं को चौकीदार बनाकर सरकार रोजगार देने का ढ़ोंग कर रही है लेकिन वास्तव में ग्रुप-डी के जरिए नौकरी लगे युवा आज अपनी नौकरियां छोड़कर भाग रहे है और इसके लिए सरकार जिम्मेदार है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *