‘मैं विपक्ष का सांसद और आप मोदी सरकार में मंत्री रहे, आओ करें बहस, हिसार में किसने क्या करवाया’ – दुष्यंत चौटाला 

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 22 April, 2019

हिसार लोकसभा क्षेत्र से जननायक जनता पार्टी व आम आदमी पार्टी गठबंधन के प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला ने मोदी सरकार के पूर्व केंद्रीय मंत्री चौ. बिरेंद्र सिंह को हिसार में विकास को लेकर खुली बहस की चुनौती दी है। उन्होंने कि मैं तो विपक्ष का सांसद था और आप मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे। अफसोस की बात है कि बतौर केंद्रीय मंत्री बिरेंद्र सिंह का हिसार लोकसभा क्षेत्र के विकास में आपका कोई योगदान नहीं रहा जबकि वे केंद्र में चार-मंत्रालयों के मंत्री रहे।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मोदी गवर्नमेंट में बिरेंद्र सिंह के पास ग्रामीण विकास मंत्रालय रहा परन्तु हिसार के गांवों के विकास के लिए कोई नया प्रोजेक्ट, नया काम या नई योजना नहीं ला पाए। वे करीबन केंद्र में दो वर्ष तक पंचायती राज मंत्री भी रहे लेकिन हिसार लोकसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायतों को विकास कार्यों के लिए  एक रूपया अतिरिक्त भी नहीं दिलवा पाए। इसके अलावा वे मोदी सरकार में पेयजल व स्वच्छता मंत्री भी रहे परन्तु पेयजल को लेकर हिसार लोकसभा क्षेत्र में जो हालात हैं, वह किसी से छिपे नहीं हैं। आज भी हिसार लोकसभा क्षेत्र के सैंकड़ों गांवों में पीने का पानी तक उपलब्ध नहीं है। महिलाओं को पीने के दो घूंट पानी के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ती हैं। लोगों को हजारों रूपये खर्च कर अपने स्तर पर पानी के टैंकर खरीदने पड़ते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री बिरेंद्र सिंह अपने सुपुत्र ब्रिजेंद्र सिंह के लिए किस मुंह से वोट मांग रहे हैं।

गठबंधन प्रत्याशी दुष्यंत ने कहा कि न तो सीएम मनोहर लाल खट्टर सरकार और न ही बिरेंद्र सिंह बतौर पेजजल एवं स्वच्छता मंत्री हिसार के जनता लिए स्वच्छ पेजयल उपलब्ध करवा पए। आज भी अनेक गांवों व शहरों में पीने योग्य पानी की आपूर्ति नहीं होती। जनता को पीने के पाने लिए मुझे सांसद निधि कोष से गांवों में सैंकड़ों पानी के टैंकर पंचायतों को देने पड़े।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि विपक्ष का सांसद होने के नाते और पूर्व केंद्रीय इस्पात मंत्री बिरेंद्र सिंह लोकसभा क्षेत्र में हुए विकास कार्यों को लेकर किसी भी मंच पर उनसे बहस कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *