ताऊ की राह पर दुष्यंत चले चौपाल की ओर, गांवों में पहुंच लोगों से हो रहे हैं रूबरू

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति शख्सियत हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Chandigarh, 24 July, 2019

जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला के जन चौपाल कार्यक्रम की आज से शुरुआत हो गई है। दुष्यंत गांव-गांव जाकर लोगों की समस्याएं सुनेंगे।

वे जमीनी स्तर पर लोगों से संवाद स्थापित करने और उनकी समस्याएं जानने के लिए पूर्व उपप्रधानमंत्री जननायक स्व. देवीलाल की राह पकड़ते हुए गांवों में चौपाल की ओर निकले हैं। बुधवार को दुष्यंत चौटाला ने अपने जन चौपाल कार्यक्रम की शुरुआत झज्जर जिले के हलके बहादुरगढ़ से करते हुए गांव कानौदा की चौपाल पर पहुंचे। इसके बाद वे आसौदा जसौर खेड़ी, बरौणा गांव में पहुंचे। गांव वासियों ने दुष्यंत का जगह-जगह स्वागत किया। बहादुरगढ़ हलके में ग्रामीणों से मिलने के बाद दुष्यंत चौटाला खरखौदा हलके में भी ग्रामीणों से रूबरू हुए।

जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला ने अपने इस कार्यक्रम के तहत गांवों में लोगों से रूबरू होकर सीधा संवाद स्थापित किया। गांवों में लोगों ने दुष्यंत के समक्ष अपनी समस्याएं रखी। बहादुरगढ़ के गांवों में लोगों ने सर्वाधिक पीने के पानी की समस्या बताई। ग्रामीणों ने बताया कि गांवों में लोगों को पीने का स्वच्छ पेयजल नहीं मिल रहा है और जैसे-तैसे करके महिलाएं पीने के लिए पानी का इंतजाम करती हैं। युवाओं ने दुष्यंत के समक्ष जहां रोजगार की समस्या का जिक्र किया व किसानों ने भी अपनी समस्याएं रखी।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मैं आपकी पीड़ा को समझता हूं और इन्हें हल करवाने के लिए कर्तसंकल्प हूं। उन्होंने कहा कि गांवों में लोगों को अनेक छोटी-छोटी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, उनकी कोई सुनने वाला नहीं है, न ही सरकार के विधायक, सांसद व मंत्री उनकी समस्याओं और पीड़ा को समझते हैं और न ही जिला प्रशासन के अधिकारी। ग्रामीण लोग इन्हीं समस्याओं में उलझ कर रह जाते हैं और वे अपने जीवन में आगे नहीं बढ़ पाते।

दुष्यंत ने कहा कि इन सभी समस्याओं का निदान जननायक जनता पार्टी को सत्ता में लाना होगा। सत्ता में आने के बाद प्रदेश के हर गांव में आरओ का पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। गंदा व दूषित हमारे लिए बीमारियों का प्रमुख कारण है। दूषित जल के कारण कैंसर, पीलिया जैसी जानलेवा बीमारियां बड़े पैमाने पर फैल रही हैं। सरकार स्वच्छ पेजयल के लिए कुछ नहीं कर रही है।

जेजेपी नेता ने कहा कि हरियाणा के युवाओं की रोजगार की समस्या तभी हल हो सकती है जब प्रदेश के युवाओं की भागीदारी निजी क्षेत्र में बढ़े। इसके लिए निजी क्षेत्र को कानूनी रूप से बाध्य किया जाए कि वे अपने उद्योगों में 75 प्रतिशत नौकरियां प्रदेश के युवाओं को दें। उन्होंने कहा कि जेजेपी सत्ता में आने पर न केवल रोजगार मेरा अधिकार कानून लेकर आएगी बल्कि निजी क्षेत्र में 75 प्रतिशत हरियाणा के युवाओं के लिए आरक्षण भी लागू किया जाएगा।

इस दौरान झज्जर के जेजेपी के जिला प्रधान राकेश जाखड़, प्रदीप देसवाल, संजय दलाल, डा. जेएस कादियान, सुमित राणा, उपेंद्र कादियान,अजय गुलिया सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *