दुष्यंत चौटाला ने पहली बार माना, दादा ओपी चौटाला ने किया पार्टी से बाहर

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Ajay Lohan, Yuva Haryana
Narnaud, 23 Nov, 2018

इनेलो से निष्कासित सांसद दुष्यंत चौटाला ने पहली बार माना है कि उनके दादा ने ही उन्हे पार्टी से निष्कासित किया है। नारनौंद में जींद रैली का न्यौता देने पहुंचे सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मेरे दादा ने 11 तारीख को पार्टी से निष्कासित कर नया रास्ता दिखाने का काम किया है।

लेकिन साथ ही दुष्यंत चौटाला ने कहा कि दादा के आशीर्वाद से वो अब नया संगठन खड़ा करेंगे और हर वर्कर को उससे जोड़कर नये आयाम स्थापित करेंगे। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि साल 2013 में हालात कुछ और थे और साल 2018 में हालात बदल गए हैं। उस वक्त मैं आपके बीच वोट लेने आया था और आपने मुझे नेता बना दिया ।

दुष्यंत चौटाला ने ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा कि नौ दिसंबर को जींद के पांडू पिंडारा में होने वाली रैली में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचने का काम करें, ताकि विरोधियों को भी इस बात का एहसास हो।

जनसभा के बाद दुष्यंत चौटाला ने नगर निगम चुनाव को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पहले पार्टी बनने दो उसके बाद चुनाव को लेकर रणनीति बनाई जाएगी वहीं उन्होने रोहतक इनेलो दफ्तर पर कब्जा करने को लेकर कहा कि वो किसी व्यक्ति की निजी संपत्ति है और औपचारिक रुप से वहां पर इनेलो का दफ्तर नहीं चल रहा था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *