धूल भरी आंधी ने ढाया कहर, मदरसे की मीनार गिरने से 2 बच्चे गंभीर

अनहोनी चर्चा में हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Nuh, 07-04-2018

नूंह मेवात जिले में गांव बसई झिमरावट ब्लॉक नगीना में शाम तेज आंधी चलने से दारुल उलूम मदरसा की मीनार गिर गई। मीनार के मलबे से कमरों की छत का हिस्सा भी गिर गया, जिससे वहां पढ़ने वाले दो बच्चे दब गए। जिन्हें समय रहते अल आफिया अस्पताल मांडीखेड़ा में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है।

हादसे की खबर सुनकर भीड़ ही नहीं बल्कि इलाके के भाजपा नेता आलम उर्फ़ मुंडल भी घटनास्थल पर पहुंच गए और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। जानकारी के अनुसार घायल आबिद(10) गांव बुबलहेड़ी और अशफाक(13) बिहार के रहने वाले हैं। मदरसा करीब 40 सालों से चल रहा है और इस समय वहां 500 बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं।मदरसा के संचालक मौलाना इल्यास ने बताया कि तेज आंधी चलने के कारण पहले तो मीनार टूटी। जिसके बाद टूटने के बाद में ये मीनार छत को तोड़ते हुए फर्श पर आकर गिरी।

इस दौरान 500 बच्चों में से 2 बच्चे सीधी चपेट में आने के कारण घायल हो गए। इसके अलावा इलाके में जगह-जगह पेड़ आदि टूट गए और सड़कों पर मलबा पड़ा हुआ है। मौलाना ने बताया कि मदरसे में कम से कम 20 लाख रुपए का नुक्सान हुआ है। मदरसा के 8 कमरों की टीन शेड टूटकर उड़ गई अौर बिजली व्यवस्था भी बाधित होने के अलावा काफी नुकसान हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *