मतदान ज्यादा हो इसके लिए चुनाव आयोग ने अपनाया यह अनोखा तरीका, डॉक्टर की स्लिप पर भी लिखी होगी ये बात

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana
Chandigarh, 09 April, 2019

हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन ने लोकतंत्र की मजबूती के लिए सभी उपायुक्त-सह-जिला निर्वाचन अधिकारी से अनुरोध किया है कि लोकसभा आम चुनाव 2019 को देखते हुए मतदान प्रतिशतता को बढाने के लिए मतदान की तिथि की जानकारी पहुंचाने के लिए डॉक्टरों की उपचार स्लिप पर मतदान की तिथि 12 मई 2019 की मुहर लगवाना सुनिश्चित करें। इसके लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ तुरंत बैठक की जाए।

रंजन आज यहां आयोजित राज्य स्तरीय व्यवस्थित मतदाता शिक्षा और भागीदारी कोर कमेटी की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग, मौलिक, माध्यमिक व उच्चतर शिक्षा विभाग, हरियाणा परिवहन, हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, रेड क्रॉस व महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

रंजन ने उपायुक्तों को यह भी सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि स्थानीय स्तर पर मिठाई के डिब्बों, रेस्तरां, सिनेमा हॉल की टिकटों पर भी मतदान तिथि की जानकारी लिखवाई जाए। इसके साथ ही धार्मिक स्थलों पर भी मतदान तिथि की ऑडियो सूचनार्थ चलवाई जाए। उन्होंने कहा कि मतदान तिथि के दिन रविवार होने के कारण निजी क्षेत्र के नियोक्ता अपने कर्मचारियों को वेतन अवकाश मंजूर करें।

बैठक में उन्होंने इस बात पर भी बल दिया कि लोगों को मतदान करने के लिए प्रेरित करने हेतु संबंधित क्षेत्र की विभूतियां चाहे वह खेल जगत से हो, शिक्षा जगत से हो या सामाजिक क्षेत्र से हो या बुद्धिजीवी या राज्य स्तरीय आइकॉन हो, उनका संदेश रिकॉर्ड करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि लोकसभा आम चुनाव 2014 की तुलना में जिन संसदीय क्षेत्रों में इस बार मतदान प्रतिशत बढ़ेगा, उनमें से पहले तीन पायदान पर आने वाले जिलों के अधिकारियों को हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा विशेष रूप से सम्मानित किया जाएगा।

बैठक में इस बात की जानकारी दी गई कि इस बार लोकसभा चुनाव में 31 जनवरी 2019 को मतदाता सूची प्रकाशित होने के बाद राज्य में करीब 5 लाख 21 हजार नए मतदाताओं ने अपना पंजीकरण करवाया है तथा 12 अप्रैल 2019 तक पंजीकरण की अंतिम तिथि है, करीब 30 से 35 हजार नामों का पंजीकरण और होने का अनुमान है। बैठक में इस बात की भी जानकारी दी गई कि 1 जनवरी 2001 को जन्में तथा 18 वर्ष की आयु पूरी कर पहली बार मतदाता बनने वालों की संख्या लगभग 2200 है।

रंजन ने जिला निर्वाचन अधिकारियों से आग्रह किया कि वे मतदाताओं को वोट के महत्व की जानकारी देने के लिए इस बात का प्रचार-प्रसार करें कि मतदान से संबंधित किसी प्रकार की जानकारी वोटर हेल्पलाइन नंबर 1950, आयोग से एसएमएस के माध्यम से या स्थानीय बीएलओ के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है।

        बैठक में संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. इन्द्र जीत व अपूर्व, स्वीप कौर कमेटी के नोडल अधिकारी महेश्वर शर्मा सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *