बिजली निगम लौटाएगा उपभोक्ता के 1 लाख 88 हजार रुपए

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Gurugram, 17 Feb,2019

बिजली निगम द्वारा उपभोक्ता पर बिजली मीटर टैंपर करके बिजली चोरी करने के लगाए आरोपों को सिविल जज प्रदीप चौधरी की अदालत ने गलत पाया है। जिस पर अदालत ने निगम को आदेश दिए हैं कि उपभोक्ता पर लगाए 1 लाख 88 हजार का जुर्माना, जिसका उपभोक्ता बिजली निगम को भुगतान कर चुका है। उस धनराशी को 24 प्रतिशत ब्याज के साथ उपभोक्ता को वापस किया जाए।

दरअसल सदर बाजार के व्यापारी सम्यक जैन की बाजार में श्री डीजायनर्स के नाम के दुकान है। दुकान पर लगे बिजली मीटर को निगम ने 4 जुलाई 2016 को उतारकर बिजली निगम की लैबोरेट्री में चैक करवाने के लिए भेजा था। बिजली निगम के अधिकारियों का कहना है कि जांच में मीटर में गडबड़ी पाई गई, जिस पर निगम ने सम्यक जैन पर 1,88,047 रुपए का जुर्माना लगा दिया था।

बिजली कनैक्शन कटने के डर से उसने जुर्माना भर दिया। 7 अप्रैल 2017 को बिजली निगम के खिलाफ अदालत में केस दर्ज कर दिया। इस पर बिजली निगम ने अदालत में जो दस्तावेज पेश किए, उनसे बिजली चोरी के आरोप तय नहीं हो सके। अदालत ने आरोपों को गलत पाते हुए निगम को आदेश दिए कि उपभोक्ता द्वारा जमा करवाई गई जुर्माने की राशी को 24 फिसदी ब्याज के साथ उपभोक्ता को वापिस की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *