रेवाड़ी में लॉकअप से कैदी फरार, अब पुलिस कर्मचारियों पर गिरेगी गाज

Breaking बड़ी ख़बरें हरियाणा

Ajay Atri, Yuva Haryana
Rewari, 8 May, 2018

रेवाड़ी पुलिस एक बार फिर उस वक्त सवालों के घेरे में आ खड़ी हुई, जब एक सरपंच पर फायरिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया एक कैदी रात करीब 2 बजे लॉकअप से फरार हो गया। इस घटना के बाद पुलिस महकमें में हडक़ंप मच गया, लेकिन हैरान करने वाली बात यह है कि अभी तक पुलिस आरोपी को पकडऩे में नाकाम रही है।

दरअसल हरिनगर गांव के सरपंच पर वर्ष 2016 में हुई फयरिंग के मामले में आरोपी संजय मैंदीरत्ता को रामपुरा थाना पुलिस ने बीते दिन गिरफ्तार किया था, जिसे आज अदालत में पेश किया जाना था, लेकिन रामपुरा थाने में लॉकअप न होने के कारण उसे सिटी थाने की हवालात में रखा गया था। जहां पुलिस की लापरवाही के चलते आरोपी रात करीब 2 बजे हवालात से फरार हो गया।

इस घटना के बाद पुलिस के हाथ-पांव फूल गए और आनन-फानन में आला अधिकारियों ने थाने के मुंशी व होमगार्ड के एक जवान के खिलाफ लापरवाही के आरोप में केस दर्ज कर आरोपी की धरपकड़ शुरू कर दी है।

डीएसपी सतपाल यादव

पीडि़त सरपंच की मानें तो का आरोपी के साथ 10 साल पहले प्रोपर्टी को लेकर उसका कोई विवाद हुआ था, जिसके चलते वर्ष 2016 में रंजिशन उस पर फायरिंग की वारदात हुई और गोली उसकी पीठ में लगी थी, जोकि आज तक पीठ से नहीं निकली है। इस वारदात में आरोपी व एक अन्य दीपक सोनी का शामिल होने पाया गया था। इस घटना के बाद पीडि़त सरपंच जरूर भय के साए में है। उसने भी पुलिस विभाग से अपनी सुरक्षा की मांग की है।

पीड़ित सरपंच

उसका आरोप है कि आरोपी को पुलिस विभाग के ही कुछ कर्मचारियों का संरक्षण प्राप्त है, जोकि पुलिस महकमे में दलाली का काम भी करते हैं। अब भी उसे अंदेशा है कि पुलिस की मिलीभगत के चलते वह लॉकअप से फरार हुआ है।

इस मामले में हैरान करने वाली बात यह है कि करीब डेढ़ दर्जन मामलों में आरोपी कैदी की जिम्मेदारी एक मुंशी और होमगार्ड के सहारे कैसे सौंप दी गई। ऐसे में आरोपी को फरार होने के पीछे पुलिस की मिलीभगत साफ दिखाई पड़ती है। वहीं बड़ा सवाल यह है कि कैदी की फरारी के वक्त थाने में सुरक्षा के इंतजाम कहां थे और थाने के गेट पर संत्री की तैनाती क्यों नहीं थी, वहीं लॉकअप का ताला अपने आप कैसे खुला।

 

Read This News Also>>>करनाल जिला जेल में कर सकेंगे कैदी अपने परिजनो के साथ वीडियो कॉलिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *