खुले नलों से हर रोज बर्बाद हो रहा लाखों लीटर पानी, अब सरकार लगाएगी इन पर टूंटी

Breaking बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन सेहत स्थानीय हरियाणा
क्या आपको पता है हमारे आसपास खुले पड़े नलों से हर रोज लाखों लीटर पीने लायक पानी बर्बाद होता है, जिसकी कीमत करोड़ों रूपये में होती है ? हरियाणा सरकार को भी अब आभास हुआ है कि ऐसी एक लाख खुली पाइपों पर अगर टूंटी लगा दी जाए तो हर रोज 10 लाख लीटर पानी की बर्बादी रोकी जा सकती है।
कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि जून माह के दौरान राज्य से 30 उपमण्डलों में एक लाख घरों में जलापूर्ति के लिए लगे नलों पर टोंटी लगाएंगे। इससे हर रोज दस लाख लीटर पानी की बचत होगी। यह पानी इतना होगा कि हर रोज 15 नए गांवों को पीने लायक साफ पानी मिल सकेगा।
 

यह जानकारी धनखड़ ने झज्जर में सिंचाई तथा जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की जिले में जलापूर्ति व पशुओं के लिए बनाए गए तालाबों की स्थिति की समीक्षा करने के उपरांत दी। 
धनखड़ ने बताया कि पानी प्रकृति से मिला ऐसा संसाधन है जिसे पुन: बनाया या बढ़ाया नहीं जा सकता बल्कि इसका संरक्षण, रिचार्ज व बचत की जा सकती है। एक लाख टोंटी लगाने पर होने वाली दस लाख लीटर पानी की बचत से 15 नए गांवों में प्रतिदिन जलापूर्ति की जा सकती है और पानी के सदुपयोग का यहीं एक उपाय है।
उन्होंने जल संरक्षण के इस महाभियान के लिए लोगों से अपने घरों में टोंटी लगवा कर उन घरों तक पानी पहुंचाने में योगदान की अपील की है जहां अभी तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। टोंटी लगाओ-पानी बचाओ अभियान जल संरक्षण को एक नई दिशा देगा।
विकास एवं पंचायत मंत्री ने कहा कि पशुओं के लिए जोहड़ भरना तथा लोगों को पीने का पानी उपलब्ध कराना हमारा कर्तव्य है। हम सब जनता के प्रतिनिधि हैं, ऐसे में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *