पेपर अच्छा न होने पर, 10वीं के छात्र ने खुद को लगाया मौत के गले

अनहोनी युवा हरियाणा

Ajay Atri, Yuva Haryana

Rewari, 31-03-2018

बच्चों के ऊपर पढ़ाई में अच्छा करने का कितना दबाव है, इस बात का पता निराश बच्चों के मौत को गले लगाने की घटनाओं से चलता है। आज के बच्चे पढ़ाई के बोझ तले इतना दब चुका है कि वह इससे छुटकारा पाना ही बेहतर विकल्प समझता है।

पढ़ाई से छुटकारा पाने के लिए वे अपनी जान गंवाना ही एकमात्र विकल्प चुनते हैं और अपने मां-बाप को तरसने के लिए छोड़ जाते हैं। जी हां, ऐसा ही एक मामला सामने आया है, रेवाड़ी के बुढ़ाना गांव में। जहां 10वीं के कपिल नाम के छात्र ने परीक्षा अच्छी न होने पर घर मे ही फंदा लगाकर अपनी जान दे दी।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज, पुलिस कार्रवाई शुरू कर दी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *