फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी की टिकट पर इस नेता ने ठोकी दावेदारी

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Bhagat Singh, Yuva Haryana
Palwal, 28 March, 2019

पलवल में भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य एवं हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेहर चन्द गहलोत ने फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से टिकट की दावेदारी करते हुए कहा कि केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री एवं सांसद कृष्णपाल गुर्जर फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र की जनता की आकांक्षाओं पर खरा नहीं उतर पाए है। लोकसभा क्षेत्र में कृष्णपाल गुर्जर का जोरदार विरोध हो रहा है। फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से उनका नाम भी पैनल में गया हुआ है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि इस बार फरीदाबाद लोकसभा की टिकट मिलेगी।  

भाजपा नेता मेहर चन्द गहलोत ने अपने कार्यालय पर प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि सांसद कृष्णपाल गुर्जर ने फरीदाबाद की जनता के अनुरूप कार्य नहीं किए। फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में पलवल जिला हमेशा से उपेक्षा का शिकार रहा है। यही वजह है कि लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर का पुरजोर विरोध हो रहा है। पलवल क्षेत्र में कृष्णपाल गुर्जर को जनता पसंद नहीं कर रही है। मेहर चन्द गहलोत ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों में भी फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से अपनी दावेदारी पेश की थी। संसदीय बोर्ड की बैठक में उनके नाम पर विचार किया गया था। उस वक्त भी पूरी उम्मीद थी कि फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से टिकट के मजबूत दावेदार होने पर पार्टी हाईकमान टिकट देगा लेकिन किसी कारणवश टिकट नहीं मिल पाया। अबकी बार टिकट की दावेदारी दोबारा से की गई है। पैनल में मेहर चन्द्र गहलोत, विपुल गोयल व कृष्णपाल गुर्जर का नाम गया हुआ है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद सर्वेपरि है। भाजपा पार्टी की लंबे समय तक निस्वार्थ भाव से सेवा की है। पार्टी हाईकमान यदि फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से टिकट देगी तो चुनाव अवश्य लडेगें और जनता के सहयोग से यह सीट निकालकर पार्टी को मजबूत करने का काम करेगें। महर चन्द गहलोत ने कहा कि देश व प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लहर चल रही है। भाजपा विकास के मुद्दे को लेकर जनता के बीच में जाएगी। विकास के नाम पर भाजपा को लोकसभा में पूर्ण बहुमत हांसिल होगा। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद लोकसभा सीट पर टिकट वितरण का अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान का होगा। संसदीय बोर्ड की बैठक में जो निर्णय लिया जाएगा उसकी अनुपालना की जाएगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत करने का काम करेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *