बड़ी उपलब्धिः साधारण किसान का बेटा बना HCS अफसर, सेल्फ स्टडी कर हासिल किया मुकाम

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

हरियाणा पब्लिक सर्विस कमीशन की तरफ से जारी एचसीएस परीक्षा में सिरसा के छोटे से गांव फरवाई कलां के मनदीप कुमार ने अपना परचम फरहाया है। साधारण परिवार से संबंध रखने वाले मनदीप कुमार ने हमेशा सरकारी स्कूल में ही पढ़ाई की और अब सेल्फ स्टडी करके HCS की परीक्षा पास की है।

मनदीप कुमार के पिता रामचंद्र जांगड़ा साधारण किसान हैं। घर की आर्थिक स्थिति ज्यादा अच्छी ना होते हुए भी मनदीप कुमार ने अपनी मेहनत से पहले फिजिक्स लेक्चरर की नौकरी हासिल की। और अब एचसीएस की परीक्षा पास की है। खास बात यह भी है कि उन्होंने गांव के गरीब बच्चों को हमेशा फ्री ट्यूशन देते रहे हैं।

दादा, पिता, चाचा, मामा के बाद अब खुद HCS अफसर बने विश्वजीत सिंह

मनदीप कुमार ने अपनी प्रांरभिक शिक्षा गांव के ही सरकारी स्कूल से की थी, बाद में उन्होने राजकीय मॉडल संस्कृति स्कूल से शिक्षा ग्रहण की। मनदीप कुमार का चयन साल 2013 में फिजिक्स लेक्चरर के तौर पर हुआ था। खास बात यह भी है कि जिस स्कूल में उन्होंने पढ़ाई की थी, उसी स्कूल में वो साल 2016 से फिजिक्स लेक्चरर के पद पर कार्यरत रहे हैं। उन्होंने अपनी मेहनत के बलबूते पर लगातार चार बार फिजिक्स में नेट जेआरएफ पास किया है।

HPSC ने HCS (Ex. Br) के फाइनल नतीजे किये घोषित, देखिये पूरी लिस्ट

फिजिक्स लेक्चरर की नौकरी के बाद वो लगातार एचसीएस में भर्ती होने के लिए सेल्फ स्टडी में लगे हुए थे, उन्होंने स्कूल में बच्चों की पढ़ाई के अलावा अपना समय निकालकर खुद ही एचसीएस की परीक्षा के लिए तैयारी की और अब उन्होंने एचसीएस की परीक्षा पास कर दी है।

मनदीप कुमार ने युवा हरियाणा के एडिटर साहब राम को फोन पर बताया कि उनके गांव और दोस्तों की तरफ से काफी सहयोग मिला है। उन्होने बताया कि विशेष तौर पर राजेश खुराना का सबसे ज्यादा सहयोग रहा है। उन्होंने बताया कि राजेश खुराना ने मुझे इस मंजिल तक पहुंचाने के लिए पूरा सहयोग और प्रोत्साहन किया।

मनदीप कुमार एचसीएस बनने के बाद अब अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, गुरुजनों और दोस्तों को देते हैं। वो बताते हैं कि उनको हमेशा परिजनों और दोस्तों से काफी सहयोग मिला। उन्होने बताया कि गांव फरवाई कलां की तरफ से हमेशा अच्छा सहयोग मिला है।

मनदीप कुमार के दोस्तों ने भी उनके एचसीएस बनने पर खुशी जाहिर की है। उनके दोस्त अंकुर छाबड़ा, राजेश खुराना, प्रदीप ग्रेवाल, पियूष मक्कड़, सुजीत कौशिक, हरपाल मेहता, राकेश मोहन, परम यादव, गौरव वधवा और स्कूल प्रिंसीपल सहीराम चाहर व स्कूल स्टाफ ने मंदीप की इस सफलता के लिए उन्हे बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *