पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा से मिला किसानों का प्रतिनिधिमंडल, उठाई ये मांग

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें राजनीति हरियाणा हरियाणा विशेष

Sahab Ram, Yuva Haryana

किसानों के मुद्दों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा लगातार सरकार पर हमला कर रहे हैं। किसान संगठन भी रोज अपने मुद्दों को लेकर नेता प्रतिपक्ष से संपर्क साध रहे हैं। इसी कड़ी में कैथल से भारतीय किसान संघ का एक प्रतिनिधिमंडल रणदीप सिंह आर्य, प्रदेश सचिव एवं प्रदेश प्रवक्ता की अगुवाई में उनसे मुलाकात करने पहुंचा। प्रतिनिधि मंडल ने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार किसान हितों की अनदेखी कर रही है। फसलों की ख़रीद में हजारों करोड़ के घोटाले हो रहे हैं। लेकिन जांच के नाम पर बस लीपापोती की जा रही है।

प्रतिनिधिमंडल ने आरोप लगाया कि कैथल सहकारी चीनी मिल में हजारों करोड़ का चिप घोटाला हुआ। पुलिस ने मौके से तोल में हेराफेरी करने वाली चिप भी कब्जे में ली। इसका मकसद सीरे के व्यापारी मनीष ग्रोवर और स्क्रेप व्यापारियों को फायदा पहुंचाना था। यूनियन ने बाकायदा इस मामले में एफआईआर भी दर्ज करवाई। लेकिन आजतक इस मामले में असली आरोपियों के ख़िलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई।

भारतीय किसान संघ के नेताओं ने कहा कि इसी तरह धान ख़रीद में भी 35 हजार मीट्रिक टन का घोटाला कागजों में ही साबित हो चुका है। अकेले करनाल में 12 हजार मीट्रिक टन का घोटाला हुआ है। बावजूद इसके अबतक किसी पर कोई कार्रवाही नहीं होना बताता है कि सरकार ख़ुद घोटाले को संरक्षण दे रही है। किसान संघ ने ये भी आरोप लगाया कि जब से प्रदेश में बीजेपी सरकार बनी है जे-फार्म के नाम पर लगातार धांधली हो रही है। इसलिए जे-फार्म की जांच जरूरी है।

किसान नेताओं को भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भरोसा दिलाया है कि वो विधानसभा समेत हर मंच पर उनकी मांगों को उठाएंगे। सरकार को धान ख़रीद और चिप घोटाले समेत भ्रष्टाचार के तमाम मामलों की जांच करानी ही होगी, क्योंकि धान ख़रीद घोटाला सीधे तौर पर किसानों के साथ ठगी है। जे फार्म और नमी के नाम पर किसानों के साथ फरेब किया गया। उनकी फसल को एमएसपी से 150200 रुपये कम रेट में ख़रीदा गया।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि बीजेपी राज में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है और सरकार अपनी आंखें बंद किए बैठी है। भ्रष्टाचार का आलम ये है कि विपक्ष और आम जन ही नहीं, सरकार के सहयोगी विधायक भी इसके ख़िलाफ मुखर हो गए हैं। रोज सरकार का कोई ना कोई विधायक, भ्रष्टाचार का नया आरोप सरकार पर लगा रहा है। आम जनता को भी लगने लगा है कि बीजेपी बीजेपी की ये दशा और दिशाहीन सरकार एक दिन भ्रष्टाचार के बोझ में दबकर ख़ुद ही धराशाही हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *