Home खेत-खलिहान सरसों की बिक्री पर समर्थन मूल्य न मिलने से किसान मायूस, सरकार भी नहीं कर रही कोई मदद

सरसों की बिक्री पर समर्थन मूल्य न मिलने से किसान मायूस, सरकार भी नहीं कर रही कोई मदद

0
0Shares

Indervesh Duhan,Yuva Haryana

Bhiwani, 03-04-2018

भिवानी की अनाज मंडी में किसानो और आढ़तियों की समस्या कम होने की बजाय बढ़ती ही जा रही है। पिछले दिनों से सरसों की आवक मंडी में शुरू हुई और अभी तक किसानों को अपनी सरसों बेचने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। किसानों को न समर्थन मूल्य मिल पा रहा है और न ही अन्य सुविधाएं।

भिवानी की मंडी में गेहूं की अवक भी शुरू हुई है। जब गेहूं की बम्पर आवक शुरू हुई, तो यह समस्या और अधिक उलझती नजर आ रही है। क्योंकि जब सरसों की खरीददारी ही किसानो और आढ़तियों को समस्याओं में घेर रही है, तो गेहूं की आवक में तो यहाँ पसीने छुटाने वाली है।

आढ़तियों और किसानों ने अपनी समस्या को लेकर सरकार से मांग की है, कि उनकी समस्याओं को जल्द ही हल किया जाए। किसानों ने कहा कि  उनकी फसल कम भाव में ली जा रही है, उन्हें मंडी में अच्छे भाव न मिलने पर अपनी सरसों औने-पौने भाव में बेचनी पड़ रही है।

वहीं व्यापारियों का कहना है कि सरकार उनकी समस्याओं को भी हल करे और आढ़तियों के द्वारा खऱीददारी करवाई जाए। वे अपनी समस्या को लेकर सीएम से भी मिल चुके हैं। लेकिन अभी तक उनकी समस्या का कोई हल नहीं निकाला गया है। जिसके कारण आढ़ती और किसान दोनों समस्याओं से घिरे पड़े हैं। उन्होंने कहा की गेहूं की आवक भी शुरू हो गई है, ऐसे में समस्या और न बढ़े।  इसलिए सरकार को  दोनों की समस्याओ को ध्यान मेें रखते  हुए, उनके हल निकालने होंगे।

Load More Related Articles
Load More By Yuva Haryana
Load More In खेत-खलिहान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

युवा हरियाणा टॉप न्यूज में पढ़िए आज दिनभर की सभी बड़ी खबरें फटाफट

Yuva Haryana Top News, 12 july 2020 1. हरियाणा &…