बैंक ने फर्जीवाड़ा करते हुए जारी कर दिए 70 करोड़ के लोन, बैंक मैनेजर सहित 18 पर केस

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें सरकार-प्रशासन हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana,

Fatehabad, 06 Mar,2019

फतेहाबाद में धोखाधड़ी के दो मामले सामने आए हैं। एक मामले में बैंक ने नियम ताक पर रखकर फर्जीवाड़ा करते हुए करीब 66 से 70 करोड़ रुपये के लोन वितरित कर दिए। वहीं दूसरे मामले में बैंक के अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर कॉलेज प्रबंधन ने एनएसडी स्कीम की प्रोत्साहन राशि अपने खाते में ट्रांसफर कर ली।

फतेहाबाद के दि फतेहाबाद सेंट्रल कॉ-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड बैंक ने बैंक के मैनेजर व क्लेरिकल स्टाफ सहित कुल 18 लोगों के खिलाफ करीब 66 से 70 करोड़ रुपये के लोन गलत तरीके से वितरित करने पर पुलिस में करप्शन एक्ट और धोखाधड़ी की विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज करवाई है।

यह एफआईआर बैंक के जीएम (जनरल मैनेजर) की शिकायत पर दर्ज की गई है। पूरे मामले की जानकारी देते हुए सिटी थाना फतेहाबाद के एसएचओ सुरेंद्र कंबोज ने बताया कि बैंक के जीएम की ओर से अपनी जांच रिपोर्ट के आधार पर पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई गई है। जिसमें उन्होंने फतेहाबाद स्थित कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड के मैनेजर व क्लेरिकल सहित कुल 18 लोगों के खिलाफ फर्जीवाड़ा कर करीब 66 से 70 करोड़ रुपये के लोन जारी करने के आरोप लगाए हैं।

एसएचओ ने बताया कि बैंक के अधिकारियों ने लोन देने की प्रक्रिया में अनियमितताएं बरतीं और जांच रिपोर्ट में इसे करप्शन का मामला माना गया है। इसके तहत जीएम की शिकायत पर पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ कप्शन एक्ट और धोखाधड़ी की विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की है और इस पूरे मामले की जांच डीएसपी द्वारा की जा रही है।

वहीं दूसरे मामले में फतेहाबाद की भूना थाना पुलिस ने यहां स्थित गुरू द्रोणाचार्य कॉलेज के डायरेक्टर व बैंक के पूर्व मैनेजर व बैंक के 2 अन्य कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज की है। मामला एनएसडी (नेशनल स्किल डेवलेपमेंट) स्कीम के एक लाभार्थी की बैंक खाते में आई 15 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि आधार कार्ड नंबर के जरिए डीबीटी कर कॉलेज प्रबंधन द्वारा फर्जीवाड़ा कर अपने खाते में ट्रांसफर्र करने का है।

मामले में भूना थाना के पूर्व एसएचओ पर जानबूझकर लाभार्थी की शिकायत दर्ज करने में आनाकानी करने और गलत रिपोर्ट कर शिकायत को फाइल करने के भी आरोप लगे हैं, जिस पर डीएसपी ने जांच के आदेश दिए हैं।

मामले की जानकारी देते हुए डीएसपी दलजीत बैनीवाल ने बताया कि मामले में एडवोकेट सुनील कुमार निवासी फतेहाबाद की शिकायत पुलिस को प्राप्त हुई थी, जिसमें जीडी कॉलेज के डायरेक्टर विकास बंसल, ओबीसी बैंक के मैनेजर व 2 अन्य बैंक कर्मियों के खिलाफ आरोप है कि इन लोगों ने मिलीभगत कर सुनील कुमार के बैंक खाते से 15 हजार रुपये की राशि धोखाधड़ी से कॉलेज के खाते में डाल ली।

लाभार्थी सुनील कुमार की शिकायत पर उक्त चारों आरोपियों के खिलाफ धाखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज कर लिया गया है। वहीं शिकायत पर पूर्व थाना एचएचओ द्वारा लापरवाही बरतने और गलत रिपोर्ट बनाने के मामले में जांच की जाएगी और नियमानुसार संबंधित पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

वहीं शिकायतकर्ता ने आरोप लगाए हैं कि यह मामला वर्ष 2014 का है लेकिन तत्कालीन पुलिस अधिकारियों की अनदेखी और गलत कार्रवाई की वजह से मामला अब नये पुलिस अधिकारियों के आने के बाद दर्ज हुआ है। शिकायतकर्ता सुनील ने मांग की है कि मामला दर्ज हो गया है लेकिन उसकी शिकायत की अब पुलिस अधिकारी ईमानदारी से जांच करे तो उसे न्याय मिलने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *