पत्नी के चरित्र पर शक करके कर रहा था मारपीट, मां को बचाने आए बेटे को उतार दिया मौत के घाट

Breaking अनहोनी चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Shweta Kushwaha, Yuva Haryana

Ambala, 2 August, 2018

अंबाला से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है, जहां एक पिता ने अपने ही बेटे को मौत के घाट उतार दिया। 17 वर्षीय बेटे की गलती सिर्फ इतनी थी कि वो पिता से अपनी मां को पीटने से बचा रहा था। इसी बीच- बचाव में पिता ने चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी।

बताया जा रहा है कि अंबाला की जग्गी कॉलोनी में रहने वाला जोरावर सिंह अपनी पत्नी के चरित्र पर शक करता था और उससे मारपीट करता था। देर रात भी वो पत्नी कुलविंद्र कौर से मारपीट कर रहा था, तो साथ वाले कमरे में पढ़ाई करते बेटे नवजोत ने मां की चिल्लाने की अवाज सुनी।जिसके चलते वो बचाने आ गया।

नवजोत ने मां को बाहर लोगों से मदद मांगने भेजा और पीछे से नशे में धुत पिता ने उसकी गर्दन पर दो बार चाकू घुसा दिया। जिसके बाद अधिक खून बहने से उसकी मौत हो गई। नवजोत 11वीं कक्षा में पढ़ता था और अपनी छुट्टियों में पार्ट टाइम नौकरी करके घर की देख- रेख भी करता था।

इस मामले में नवजोत की बहन ने बताया कि पिता जरोवर सिंह रिश्तेदारों के बहकावे में आकर मां कुलविंद्र के चरित्र पर शक करता था और रोज मारपीट करता था। बीती रात भी इसी को लेकर वह पत्नी को पीट रहा था और बेटे नवजोत के बचाने पर उसे मौत के घाट उतार दिया।

वारदात के बाद से ही आरोपी फरार बताया जा रहा है। कुछ ही समय पहले आरोपी जरोवर सिंह जेल से पांच साल की सजा भी काट कर आया था। अब पुलिस ने आरोपी जरोवर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश करने में जुटी हुई है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *