अनोखी अपीलः कुर्सी है आनी-जानी, आरक्षण दे दिया तो सदियों तक याद रखेगा जाट समाज

Breaking हरियाणा

आज प्रदेश के कई इलाकों में जाट समाज की तरफ से बलिदान दिवस मनाया जा रहा है. यह बलिदान दिवस आरक्षण आंदोलन के दौरान मारे गए लोगों की याद में मनाया जा रहा है।

भिवानी के धनाना गांव में भी जाट समाज की तरफ से बलिदान दिवस मनाया गया. इस दौरान जाट नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से अनोखी अपील की।

जाट नेताओं ने कहा कि ना तो मनोहर लाल को सदा सीएम रहना है, ना ही अमर रहना है, लेकिन अगर जाटों की आरक्षण की मांग पूरी कर देते हैं तो जाट समाज उनको चौधरी छोटूराम और चरणसिंह की तरह सदियों तक याद रखेगा।

जाट नेता रणबीर बैनीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री की कुर्सी जाने पर बीजेपी और आरएसएस मनोहर लाल को भुला देगी, लेकिन हमारी मांग पूरी कर दी तो हमारी पीढ़ियां भी उन्हे याद रखेंगी।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण समिति की तरफ से बलिदान दिवस मनाया गया. इस दौरान हवन यज्ञ का आयोजन किया गया. करीब दो हजार लोगों ने मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी और मौन रखा।

इस दौरान काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुई. महिलाएं भी बलिदान दिवस के मौके पर ट्रैक्टर-ट्रॉलियां खुद चलाकर आईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *