कुल 7 मिनट अधिक लेने पर रोडवेज बस चालक ने की प्राईवेट बस चालक की पिटाई

Breaking चर्चा में बड़ी ख़बरें हरियाणा हरियाणा विशेष

Yuva Haryana

Bhiwani, 4 March, 2019

हांसी- हिसार बूथ पर एक निजी बस द्वारा 7 मिनट अधिक लेने पर रोडवेज बस चालक ने सोमवार को एक प्राइवेट बस चालक की पिटाई कर दी। दोनों के बीच काफी हाथापाई हुई, जिसके बाद रोडवेज चालक ने मामले की शिकायत पुलिस को दी और वहीं निजी बस चालक का इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

मामला बढ़ता देख प्राइवेट बस चालकों ने हड़ताल कर दी और सभी प्राइवेट बसों को बस स्टैंड पर ही खड़ा कर दिया।

जानकारी मुताबिक हांसी- हिसार बूथ पर एक निजी बस लगी हुई थी, उसके बाद भी एक निजी बस की बारी थी। रोडवेज चालक ने बस चलाने के लिए कहा तो चालक ने कहते हुए मना कर दिया कि उसके बाद आने वाली बस मिस है, उसके समय तक वह सवारी बैठाएगा। रोडवेज को देखना होता है कि अगर निजी बस का समय मिस है तो उसकी जगह रोडवेज की बस को भेजा जाता है।

सोमवार सुबह साढ़े 11 बजे रोडवेज चालक सुनील व प्राइवेट बस चालक अपनी बस लेकर बस स्टैंड पहुंचे तो दोनों के बीच सवारी बैठाने पर झगड़ा हो गया। प्राइवेट बस चालक प्रवीण ने कहा कि जब वह बस लेकर बस स्टैंड पहुंचा तो सुनील ने बस में ही उस पर हमला कर दिया। अन्य चालक व परिचालकों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत करवाया। प्राइवेट बस चालक की पिटाई के विरोध में सभी प्राइवेट बस चालकों व परिचालकों ने हड़ताल कर दी और रूट पर चक्का जाम कर दिया। सभी प्राइवेट बसों को बस स्टैंड परिसर में ही खड़ा कर दिया।

वहीं रोडवेज चालक सुनील ने बताया कि निजी बस के चालक, परिचालक व अन्य कुछ लोगों ने उस पर लोहे की राड व डंडो से हमला करने का प्रयास किया, लेकिन वह वहां से किसी प्रकार बच निकला।

अगली सुबह निजी व रोडवेज चालक के बीच हाथापाई हो गई। बीच- बचाव के बाद मामला शांत करवाया गया और निजी बस चालक को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

हड़ताल के चलते तीनों ही रूटों पर सुबह साढ़े 11 बजे प्राइवेट बस सेवा बंद हो गई और शाम तक नहीं चल पाई। इसके कारण यात्रियों को काफी परेशानी का समाना करना पड़ा।

रविवार शाम 6 बजकर 34 मिनट पर प्राइवेट बस समय के अनुसार भिवानी बस स्टैंड से हांसी के लिए सवारियां लेकर चली थी, जबकि रोडवेज बस 6 बजकर 40 मिनट पर बस स्टैंड से हांसी के लिए सवारी लेकर चली। प्राइवेट बस ने रोहतक चौक, महम गेट आदि स्थानों से सवारियों को उठाया। इसके बाद पीछे से रोडवेज बस भी सवारी लेकर महम गेट पहुंची, लेकिन तब तक प्राइवेट बस सवारियों को उठा चुकी थी। इसी तरह से हांसी तक प्राइवेट बस रोडवेज बस के आगे आगे रास्ते से सवारी उठाती हुई चली। इस को लेकर रोडवेज बस चालक व प्राइवेट बस चालक के बीच हांसी पहुंचने पर विवाद हुआ था।

रोडवेज के प्रबंधक भरतपाल ने बताया कि निजी बस व रोजवेज बस चालक के बीच में हुई हाथापाई का मामला उलके संज्ञान में है। निजी बस चालक ने अतिरिक्त समय को लेकर उनके चालक के साथ हाथापाई की वह गलत है। बसों के परिचालन की जिम्मेदारी रोडवेज की है। अगर कोई निजी बस मिस होती है तो उसकी जगह रोडवेज बस को भेजा जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *